बच्चों की सेहत और न्यूट्रिशियन के लिए जरूरी हैं ये चीजें, बहुत लोग कर देते हैं इग्नोर

प्रत्येक वर्ष 1 से 7 सितंबर तक राष्ट्रीय पोषण सप्ताह (National Nutrition Week) मनाया जाता है. जिसका लोगों को आहार, फल-सब्जियों की पौष्टिकता के बारे में जागरुक करना होता है. आपकी प्रतिरक्षा को मजबूत करने के लिए पौष्टिकता काफी महत्वपूर्ण होती है.

बच्चों की सेहत और न्यूट्रिशियन के लिए जरूरी हैं ये चीजें, बहुत लोग कर देते हैं इग्नोर

नई दिल्ली: प्रत्येक वर्ष 1 से 7 सितंबर तक राष्ट्रीय पोषण सप्ताह (National Nutrition Week) मनाया जाता है. जिसका लोगों को आहार, फल-सब्जियों की पौष्टिकता के बारे में जागरुक करना होता है. आपकी प्रतिरक्षा को मजबूत करने के लिए पौष्टिकता काफी महत्वपूर्ण होती है. कई बार हम स्वादिष्ट खाना (Tasty Food) खाने के चक्कर में पौष्टिकता को दरकिनार कर देते हैं. जिसका दीर्घकालिक असर स्वास्थ्य पर पड़ता है. बच्चों के विकास के लिए पौष्टिक आहार (Healthy Food) बेहद जरूरी होता है. बचपन का समय शरीर और इससे जुड़े कई बदलावों और जरूरतों का होता है. इस उम्र में शरीर का विकास होता है. इसलिए जरूरी है कि आप बच्चे के आहार में हरी सब्जियां, अंकुरित अनाज खाना ज्यादा ड़ालें. भले ही वे उन्हें पसंद नहीं करते हैं, लेकिन उनकी सेहत के बेहद जरूरी है. 

प्रोटीन (Protein)
प्रोटीन बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए जरूरी है. ऐसे में बच्‍चे की डाइट में रेड मीट, मछली, अंडे, दूध, डेयरी उत्पाद, दालें, बीन्स और सोया उत्पादों को शामिल करें.

कैल्शियम (Calcium)
बच्चों के लिए जरूरी पोषक तत्वों की सूची में कैल्शियम सबसे ऊपर आता है, क्‍योंकि यह बच्‍चों में मजबूत हड्डियों और स्‍वस्‍थ दांतों के विकास के लिए जिम्मेदार होता है. यह मांसपेशियों और हार्ट को हेल्दी रखने के लिए भी आवश्यक है. इसलिए बढ़ती उम्र के बच्‍चों को कैल्शियम युक्‍त फूड आइटम्स जरूर खिलाना चाहिए. कैल्शियम के प्रमुख स्‍त्रोत हैं- दूध, पनीर, दही, पालक, ब्रॉकली, टोफू आदि.

कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate)
प्रोटीन जितना महत्वपूर्ण है, उतना ही बच्चे के संपूर्ण विकास के लिए कार्बोहाइड्रेट (स्टार्चयुक्त खाद्य पदार्थ) भी महत्‍वपूर्ण है. बढ़ते बच्चे के लिए ऊर्जा का सबसे अच्छा स्रोत होता है. आलू, चावल, ओट्स, ब्रेड जैसे स्टार्च वाले कार्ब्स से भरपूर खाना खिलाएं. साबुत अनाज में हाई फाइबर होता है, जो पेट की सेहत को दुरुस्त रखता है.

ये भी पढ़ें, हो जाएं सतर्क! दोपहर की लंबी नींद कहीं दिल के लिए खतरा न बन जाए, जानें कैसे

आयरन (Iron)
एक बच्चे को स्वस्थ रक्त के साथ-साथ शरीर के चारों ओर ऑक्सीजन के परिवहन के लिए आयरन की आवश्यकता होती है. आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थों में साबुत अनाज, दालें, बीन्स, रेड मीट, नट्स और सूखे फल, डार्क ग्रीन सब्जियां जैसे पालक शामिल हैं.

विटमिन डी और सी (Vitamin D and C) 
विटमिन डी पूरी तरह से बेहतर हड्डियों और दांतों के निर्माण और उनकी मजबूती में मदद करेगा. इसके अलावा, विटमिन डी बेहतर इम्यूनिटी और तंत्रिका तंत्र के सुचारू रूप से काम करने के लिए जरूरी है. विटमिन डी का सबसे अच्‍छा व प्राकृतिक स्‍त्रोत सूरज की रोशनी है लेकिन इसके अलावा आप अपने बच्‍चे को अंडा, मांस, मछली और साबुत अनाज भी खिलाएं ताकि विटमिन डी की कमी ना हो. विटामिन सी बच्चों की इम्युनिटी मजबूत करने के लिए बेहद जरूरी है. नींबू, संतरे आदि में यह पाया जाता है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.