अक्ल बादाम खाने से आती है लेकिन कच्चा नहीं भीगा हुआ, Soaked Almonds के हैं और भी कई फायदे

अगर आपकी भी मां या दादी आपको रोज सुबह भीगा बादाम खाने के लिए कहती हैं तो उनकी ये बात झट से मान लीजिए क्योंकि इसके ढेरों फायदे हैं.

अक्ल बादाम खाने से आती है लेकिन कच्चा नहीं भीगा हुआ, Soaked Almonds के हैं और भी कई फायदे
भीगा बादाम खाने के फायदे

नई दिल्ली: अक्सर आपने लोगों को यह कहते सुना होगा कि अगर दिमाग तेज करना है तो बादाम खाओ क्योंकि अक्ल बादाम खाने से आती है. इसमें कोई शक नहीं कि क्रंची फ्लेवर वाला बादाम (Almond) एक तरह का सुपरफूड (Superfood) है. इसका कारण ये है कि भूरे रंग का बादाम फाइबर, हेल्दी फैट और विटामिन ई (Vitamin E) समेत और भी कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है जो हमारी कोशिकाओं को नुकसान से बचाता है और इसलिए बीमारियों दूर रखने में भी बादाम की अहम भूमिका होती है. यही कारण है कि बादाम सबसे पौष्टिक और पॉप्युलर नट्स (Nuts) में से एक है.

भीगा बादाम या सूखा बादाम- क्या है बेहतर?

ज्यादातर न्यूट्रिशनिस्ट और डायटिशियन्स यही मानते हैं कि भीगा हुआ बादाम (Soaked Almonds), सूखे या कच्चे बादाम की तुलना में सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है. इसका कारण ये है कि बादाम के भूरे रंग के छिलके में कुछ टॉक्सिक पदार्थ होते हैं जो रात भर पानी में भीगने के बाद बाहर निकल जाते हैं और बादाम में मौजूद न्यूट्रिएंट्स (Nutrients) यानी पोषक तत्वों को शरीर द्वारा अवशोषित करना आसान हो जाता है. बादाम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन का भी अच्छा सोर्स है. इसलिए एक मुट्ठी बादाम को 1 कप पानी में डालें और रातभर भीगने के लिए रख दें. अगले दिन सुबह उठकर बादाम के छिलके हटाएं और उसे खाली पेट ही खा लें.

ये भी पढ़ें- रोजाना इस तरह खाएं 5 बादाम, फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान

भीगा बादाम खाने के हैं कई फायदे

1. डाइजेशन होगा बेहतर- सूखे या कच्चे बादाम को पचाना शरीर के लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन भीगा हुआ बादाम सॉफ्ट हो जाता है इसलिए उसे पचाना शरीर के लिए आसान हो जाता है. इतना ही नहीं पाचन से जुड़ी दिक्कतों (Digestion Problem) को भी दूर करने में मदद करता है भीगा बादाम क्योंकि यह पाचन को बढाने वाले एन्जाइम के उत्पादन में मदद करता है.

2. ब्रेन फंक्शन के लिए अहम- भीगा हुआ बादाम ब्रेन के फंक्शन (Brain Function) के लिए बेहद जरूरी माना जाता है. इसका कारण ये है कि बादाम में विटामिन ई होता है जो याददाश्त कमजोर होने से बचाता है और मेमोरी को स्ट्रॉन्ग बनाता है. साथ ही फोकस करने और मन लगाकर पढ़ने में भी मदद करता है भीगा हुआ बादाम.

ये भी पढ़ें- दिनभर जम्हाई आती रहती है, नींद या थकान नहीं हो सकती हैं ये खतरनाक बीमारियां

3. कोलेस्ट्रॉल लेवल में सुधार- भीगा हुआ बादाम शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) के लेवल को कम करके हार्ट को हेल्दी रखता है और साथ ही ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में भी मदद करता है ताकि आप कई तरह की बीमारियों से बचे रहें.

4. वेट लॉस में मदद- भीगे हुए बादाम में मोनोअनसैचुरेटेड फैट पाया जाता है जो भूख को कंट्रोल करता है और इसलिए बादाम खाने के बाद लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस होता है. साथ ही इसमें कैलोरीज भी बेहद कम होती हैं. इसलिए अगर आप भी वजन घटाने (Weight Loss) की सोच रहे हैं तो रोजाना सुबह खाली पेट भीगा हुआ बादाम जरूर खाएं.

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.