close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ZEE जानकारी: ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए एक जरूरी खबर

 हो सकता है आप में से बहुत लोगों को High Blood ना हो लेकिन इसके बाद भी आप Blood Pressure की दवा ले रहे हों . 

ZEE जानकारी: ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए एक जरूरी खबर

आज हमारे पास Hypertension यानी Blood Pressure के मरीज़ों के लिए एक ज़रूरी ख़बर है . हो सकता है आप में से बहुत लोगों को High Blood ना हो लेकिन इसके बाद भी आप Blood Pressure की दवा ले रहे हों . कई बार ऐसा होता है जब आपके शरीर में Blood Pressure... सामान्य स्तर से ऊपर चला जाता है . इसके आधार पर ये मान लिया जाता है कि अब आप Hypertension के मरीज़ बन चुके हैं . ऐसे में Blood Pressure की दवा तुरंत शुरू कर देनी चाहिए लेकिन ऐसा करने से आपके शरीर पर बुरा असर पड़ता है . 

इस बात को समझने के लिए देश के 15 शहरों में 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों पर एक सर्वे किया गया . इसमें करीब 19 हज़ार लोग शामिल हुए. 

इन लोगों का एक तय समय पर 7 दिन तक लगातार Blood Pressure चेक किया गया. 

इसमें करीब 40 प्रतिशत लोगों का Blood Pressure पिछले परिणामों की तुलना में गलत पाया गया . ज़्यादातर लोग बिना Blood Pressure के बावजूद इसकी दवा ले रहे थे . कुछ लोग ऐसे भी थे जिन्हे Blood Pressure होने की जानकारी पहली बार मिली . 

आज आपको ये जानने की ज़रूरत है कि Blood Pressure की सही रेंज क्या है . 

एक स्वस्थ शरीर में ब्लड प्रेशर का लेवल One hundred Twenty by Eighty होना चाहिये 

इसमें ऊपर के Blood Pressure को Systolic और नीचे के Blood Pressure को Diastolic Blood Pressure कहते हैं. आम भाषा में इसे Upper और Lower Blood Pressure कहा जाता है . आपका Upper ब्लडप्रेशर 120 और Lower ब्लडप्रेशर 80 होना चाहिए . नये मानको के हिसाब से इसमें थोड़ा बदलाव किया गया है अब Upper ब्लडप्रेशर 130 और Lower ब्लडप्रेशर 90 को भी सामान्य Blood Pressure मान लिया जाता है . 

अगर आपका Upper ब्लडप्रेशर 140 से ऊपर और Lower ब्लडप्रेशर 90 से ऊपर जा चुका है तो..हो सकता है कि आप Hypertension के मरीज़ हों . 

भारत में इस समय करीब 20 करोड़ 70 लाख लोग Hypertension के मरीज़ हैं . आश्चर्य की बात ये है कि इनमें से 24 प्रतिशत लोग ये नहीं जानते कि उनका ब्लड प्रेशर नियंत्रण रेखा के बाहर जा चुका है . इसके अलावा चिंता की बात ये भी है कि 7 में से सिर्फ़ एक मरीज़ ही ब्लडप्रेशर नियंत्रित करने के लिए दवाएं ले रहा है. 

कुछ मामलों में ये देखा गया है कि बढ़ा हुआ Blood Pressure अपने आप सामान्य स्तर पर आ जाता है लेकिन इस दौरान आप इसकी दवा लेना शुरू कर देते हैं . 

इस परेशानी से बचने के अब आपको कुछ आसान उपाय बताते हैं . 

सबसे पहले आपके पास एक अच्छी क्वालिटी की BP मशीन होनी चाहिए ताकि आपको सही Blood Pressure की जानकारी मिल सके . 

Blood Pressure नापने से पहले आपकी Heart Rate सामान्य होनी चाहिए . अगर आप पैदल चलकर आये हैं या... Work out किया है तो कुछ देर आराम करें . मन में किसी तरह का तनाव या गुस्से के भाव नहीं होने चाहिए . 

कम से कम 15 दिन तक एक तय समय के हिसाब से सुबह -शाम अपना Blood Pressure चेक कीजिए और इसे एक डायरी में नोट कर लीजिये . 

इस तरह आपके पास Blood Pressure का एक चार्ट तैयार हो जायेगा . इसके आधार पर आपके डाक्टर ये तय कर सकते हैं कि आप Hypertension के मरीज़ हैं या नहीं . आज हमने आपकी सेहत को ध्यान में रखकर इस विषय पर एक रिपोर्ट तैयार की है . इससे Blood Pressure के ख़िलाफ़ आपकी लड़ाई ...थोड़ी आसान हो जायेगी .