VIDEO: ट्रेन में चोरी के आरोप में 6 बार जा चुका है जेल, फिर हुआ रंगे हाथों गिरफ्तार

RPF की स्‍पेशनल टीम की सतर्कता के चलते एक ऐसे सनकी चोर को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है, जो एक मुसाफिर का सामान ट्रेन कोच से चोरी करने के बाद भाग रहा था.

VIDEO: ट्रेन में चोरी के आरोप में 6 बार जा चुका है जेल, फिर हुआ रंगे हाथों गिरफ्तार
नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर चौकसी के लिए 1200 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं.

नई दिल्‍ली: राजधानी दिल्ली में ट्रेन में चोरी और लूट की वारदात लगातार बढ़ रही है. इन वारदातों पर लग़ाम लगाने के लिए आरपीएफ ने एक स्‍पेशल टीम का गठन किया है. इस टीम की सतर्कता के चलते एक ऐसे सनकी चोर को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है, जो एक मुसाफिर का सामान ट्रेन कोच से चोरी करने के बाद भाग रहा था. वह अपने मंसूबों में सफल हो पाता, इससे पहले RPF ने प्लेटफॉर्म पर ही इसको दबोच लिया.

आरपीएफ के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि क्राइम का ग्राफ लागातर बढ़ने की वजह से स्पेशल टीम बनाई गई थी, जिसे हर वक्त प्लेटफॉर्म पर गश्त के साथ सीसीटीवी की मॉनिटरिंग करने के लिए कहां गया था. 13 सितम्बर को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के एसएचओ भूपेंद्र सिंह को अलर्ट सिपाही विश्राम लाल ने जानकारी दी कि एक शख्स सीसीटीवी में संदिग्ध लग रहा है. एसएचओ भूपेंद्र सिंह ने सीसीटीवी स्‍टाफ को संदिग्‍ध युवक पर कड़ी निगाह रखने के निर्देश दिए.

यह भी पढ़ें: 'सम्पूर्ण क्रांति' को लेकर BJP सांसदों में छिड़ी जंग, रामकृपाल यादव, निशिकांत दूबे आमने-सामने

सीसीटीवी कैमरों से इस शख्‍स पर निगाह रख रहे आरपीएफ ने देखा कि जैसे ही प्लेटफॉर्म से ट्रेन जम्मू राजधानी निकली, उसी वक्त ये संदिग्ध शख्स बैग लेकर चलती ट्रेन से कूद गया. उसके बाद आरपीएफ स्टाफ ने उसे मौके से ही पकड़ लिया. जब उससे बैग के बारे में पूछा तो वो ठीक से जवाब नहीं दे पाया. पूछताछ के दौरान, उसने ये बैग ट्रेन के कोच से चुराया है .उसके बाद चोरी हुए बैग के मालिक ने शिकायत दी और मुदकमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया.

आरपीएफ ने बताया की आरोपी की पहचान अब्दुल कलाम (25) के तौर पर हुई है जो गाजियाबाद के लोनी का रहने वाला है. आरोपी ने पुलिस को बताया की वह अब तक दर्जनों लैपटॉप बैग चोरी की वारदात को अंजाम दे चुका है. वह ज्यादातर चोरी नई दिल्ली और पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर करता है. आरोपी को 6 बार चोरी के आरोप में जेल भी जा चुका है, लेकिन फिर भी इसी किसी तरह का डर नहीं है. वह बेख़ौफ होकर चोरी की वारदात जेल से बाहर आने के बाद शुरू कर देता है.

LIVE TV: 

यह भी पढ़ें: यूपी-बिहार जाने वाले यात्रीगण कृपया ध्यान दें! 2 अक्टूबर से जल्द पहुंच पाएंगे घर

वहीं आरपीएफ के सीनियर डिविजनल सिक्युरिटी कमिश्नर ए एन झा स्टाफ की मुस्तैदी पर उनकी तारीफ कर रहे हैं. उन्‍होंने बताया कि दिल्ली डिवीजन के रेलवे स्टेशन पर तक़रीबन 1200 सीसीटीवी कैमरे काम कर रहे हैं. जिनकी मदद से अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा जा रहा है.