मोदी सरकार के 6 साल पर बोले कौशल विकास मंत्री, भारत के इतिहास में यह सबसे शानदार सरकार

कौशल विकास मंत्री ने कहा, 'भारत के इतिहास में यह सबसे शानदार सरकार रही है.'

मोदी सरकार के 6 साल पर बोले कौशल विकास मंत्री, भारत के इतिहास में यह सबसे शानदार सरकार
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरा होने पर सरकार की उपलब्धियों के बारे में कौशल विकास मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने Zee News से खास बातचीत की. उन्होंने कहा, 'मैं पार्टी कैडर में लंबे अरसे से काम कर रहा हूं. मेरा मानना है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राजग गठबंधन की सरकार, पहली बार, सच में वैचारिक सरकार है. क्योंकि हम जनता के बीच जाते हैं तो कुछ एजेंडे लेकर जाते हैं, मुद्दे लेकर जाते हैं. हम जिन मुद्दों को जनता के बीच लेकर जाते हैं उनपर हमेशा फोकस रहते हैं. उन्होंने कहा कि हम इसी बात के लिए देश में पहचाने भी जाते हैं.'

उन्होंने कहा कि, 'हम कहते थे कि जब भी हम सरकार में आएंगे धारा 370 खत्म कर देंगे, राम मंदिर निर्माण के लिए रास्ता प्रशस्त करेंगे, तीन तलाक के मुद्दे पर हमारा घोषित स्टैंड था कि जब हम सरकार में आएंगे इसे खत्म करेंगे. संतोष है कि नरेंद्र मोदी की सरकार पहली बार 5 साल चली और दूसरी बार जो सरकार आई है उसमें जो कहा वो किया. यह सब देश के लिए बड़ी उपलब्धि है.' उन्होंने कहा, 'अब भारत के नागरिक कश्मीर के मुद्दे पर बात करना पसंद नहीं करते हैं. बल्कि पीओके पर बात करना चाहते हैं.' यानी लोगों का मनोबल आगे बढ़ाने का और आगे की सोच का काम किया है मोदी के सरकार ने.'

यह भी पढ़ें- 'हम दौड़ेंगे, हम होंगे विजयी', क्या आपने सुना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये ऑडियो मैसेज?

कौशल विकास मंत्री ने कहा, 'भारत के इतिहास में यह सबसे शानदार सरकार रही है.'

PoK और चीन पर डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने मोदी सरकार की नीतियों को मजबूती से रखते हुए कहा कि चीन पर हमारा स्टैंड बिल्कुल मजबूत है.  हमने डोकलाम में जो दृश्य दिखाया वही दृश्य लद्दाख के मोर्चे पर भी दिखाएंगे. चीन जो अपने ही कारण से पूरी दुनिया में कोरोना वायरस, चीनी वायरस, वुहान वायरस के कारण से बदनाम हुआ है, उसी  से ध्यान भटकाने के लिए ये सब काम कर रहा है.' अब उसको भी समझ में आ रहा है कि यह 1962 का भारत नहीं है. बल्कि 2020 का भारत है.' उसको भी समझ में आ रहा है की न तो निर्माण का काम रुकेगा और ना वहां विकास का कोई और काम रुकेगा. जब चीन वहां 5000 सैनिक इकट्ठा कर रहा है तो भारत उससे 20 प्रतिशत सैनिक ज्यादा इकठा करेगा.

उन्होंने कहा कि देश आज हर मोर्चे पर मजबूत है. आज हम कोरोना संकट का सामना भी कर रहे हैं और आर्थिक समृद्धि कैसे मजबूत हो उसे लेकर भी हमारी सरकार काम कर रही है. जनता हमारे साथ है.

महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि महंगाई पर लगातार इस सरकार ने नियंत्रण रखा है और दूसरा इस सरकार ने जितनी साफ-सुथरी राजनीति की है उतनी कभी नहीं हुई. 2009 से 2014 हो या फिर 2004 से 2009 का कार्यकाल. यूपीए के इन कार्यकालों में भ्रष्टाचार का बोलबाला था. आज हम साफ-सुथरी सरकार दे रहे हैं. यह भी मोदी सरकार की एक बड़ी उपलब्धि है.

ये भी पढ़ें- ट्रंप ने PM मोदी को बताया ‘अत्यंत सज्जन व्यक्ति’, खोला पक्की दोस्ती का ये राज

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिल के करीब रहा है कौशल मंत्रालय. इललिए अपने मंत्रालय के एक साल की उपलब्धियों का बखान करते हुए महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि स्किल मंत्रालय ने देश में 1 करोड़ से ज्यादा लोगों को कौशल बनाया है. आईटीआई में छात्रों की संख्या में इजाफा हुआ है. आज आईटीआई के जन शिक्षण संस्थान का विस्तार किया. पहले 272 थे अब 83 और प्रोसेस में हैं. सभी जिलों में पीएमकेके की स्थापना हुई है. हम नई योजनाओं के साथ डिमांड बेस स्किलिंग के फील्ड में काम करने जा रहे हैं. जहां जिस अंचल में डिमांड हो, वहां पर कुशल और कौशल लोगों की उपलब्धता करा दें. जो प्रवासी भारतीय हैं जहां पर हैं वहीं उनको स्किल्ड करना और वहीं पर जरूरतों के हिसाब से उनको रोजगार देना. इन सब काम पर हमारे विभाग ने उल्लेखनीय काम किया है.  

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने दो विश्वस्तरीय इंस्टिट्यूट शुरू किए. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल मुंबई और गांधीनगर. PM मोदी की जो सोच है कि हम कौशल भारत, कुशल भारत और विश्व की सबसे बेहतर स्किल्ड फोर्स बनें, उसमें हम निरंतर प्रयासरत हैं.

कोरोना काल में कांग्रेस, खासकर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा मोदी सरकार पर तरह-तरह के आरोप लगाए जाने पर महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा, 'दोनों भाई बहन फुटपाथ की राजनीति कर रहे हैं.'

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व को मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि जैसा दिशाहीन भटका हुआ नेतृत्व कांग्रेस को मिला हुआ है उस पर उसे आत्मचिंतन करना चाहिए. 

महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि हमारे देश का एक राष्ट्रीय चरित्र रहा है अगर उनको याद ना हो तो मैं याद दिलाना चाहता हूं. वह महलों की राजनीति से आए हैं जबकि नरेंद्र मोदी खुद गरीबी से निकले हैं. गरीबी को देखा है. इसलिए गरीबों की सेवा कर रहे हैं. उनकी अपील पर देश में दो-दो बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है. यह राहुल-प्रियंका को देखनी चाहिए.

राष्ट्रीय चरित्र की जहां तक बात है 1971 में बांग्लादेश की लड़ाई हो रही थी. इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थीं. तब अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि इस समय कोई पक्ष या विपक्ष नहीं है बल्कि एक ही पक्ष है और वो भारत है. 

आज भारत में वैसी ही परिस्थिति है. एक वैश्विक महामारी की स्थिति है. इसमें सभी मुख्यमंत्रियों ने एक-दो को छोड़कर प्रधानमंत्री के साथ को प्रेरित किया है. लेकिन यह जो भाई-बहन हैं, पता नहीं कौन सी राजनीति करते हैं इनको राजनीति का ककहरा भी ज्ञात नहीं है. 

इसके अलावा राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू होने को मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धियों में से एक बताते हुए डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि अपने जीवन काल में ही राम मंदिर बनते हुए देख रहे हैं. राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. नरेंद्र मोदी के सरकार ने शांतिपूर्ण तरीके से जिस तरह से सौहार्दपूर्ण हल निकाला, यह मोदी सरकार की महत्वपूर्ण उपलब्धि है. सभी को विश्वास रखना चाहिए कि मोदी सरकार पार्ट 2 में ही भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा. भारत का ही नहीं बल्कि दुनिया का एक बहुत ही शानदार राम मंदिर बनेगा.