US राष्ट्रपति के दौरे से पहले, विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया मोदी-ट्रंप दोस्ती का यह वीडियो

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी को भारत आ रहे हैं. 

US राष्ट्रपति के दौरे से पहले, विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया मोदी-ट्रंप दोस्ती का यह वीडियो

नई दिल्ली: अमेरिकी (US) राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के भारत दौरे से पहले विदेश मंत्रालय (MEA) ने मोदी-ट्रंप दोस्ती का एक वीडियो ट्वीट किया है. वीडियो में दावा किया गया है कि ट्रंप के भारत दौरे में भारत-अमेरिका सबंध नई ऊचाइयों को छुएंगे. 

वीडियो में बताया गया है कि 2017 के बाद डोनाल्ड ट्रंप और नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के बीच 7 बार मुलाकात हो चुकी है.  वीडियो में ट्रंप के दौरे का ब्योरा दिया गया है. अपने दौरे के दौरान ट्रंप जिन तीन शहरों - अमदाबाद, आगरा, दिल्ली- में जाएंगे वहां के सभी कार्यक्रमों की जानकारी वीडियो में दी गई है. 

वीडियो में बताया गया है कि ट्रंप पीएम मोदी के साथ अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में एक कार्यक्रम को संबोधित करेंगे, आगरा में ताज का दीदार करेंगे और फिर दिल्ली में पीएम मोदी के साथ कई समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे. 

इससे पहले अमेरिका ने शनिवार को आधिकारिक तौर पर पुष्टि की है कि 24 फरवरी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रथम महिला मेलानिया की दो दिवसीय भारत यात्रा के दौरान उनके साथ 12 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भी आएगा.

एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने कहा कि भारत में अमेरिकी राजदूत केन जस्टर, कॉमर्स सेक्रेटरी विल्बर रॉस, एनर्जी सेक्रेटरी डैन ब्रोइलेट, कार्यवाहक चीफ ऑफ स्टाफ मिक मुलवेनी, और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ'ब्रायन राष्ट्रपति के साथ होंगे. इसके अलावा, राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप और उनके पति जारेड कुशनर, व्हाइट हाउस के दोनों वरिष्ठ सलाहकार हैं, भी यात्रा में उनके साथ होंगे.

नीति मामलों के वरिष्ठ सलाहकार स्टीफन मिलर, व्हाइट हाउस के सोशल मीडिया निदेशक डैन स्कैविनो, प्रथम महिला मेलानिया की स्टाफ की प्रमुख लिंडसे रेनॉल्ड्स, अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार नीति के विशेष प्रतिनिधि रॉबर्ट ब्लेयर और व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव स्टेफनी ग्रिशम भी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं.

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच द्विपक्षीय बैठक के लिए, शरीक होने वाले अन्य राजनयिकों में अमेरिकी अंतर्राष्ट्रीय विकास वित्त निगम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एडम बोहलर, एफसीसी के अध्यक्ष अजीत पई, दक्षिण और मध्य एशियाई मामलों के लिए राष्ट्रपति की उपसहायक लिसा कर्टिस, राष्ट्रपति के विशेष सहायक और आतंकवाद रोधी मामले के वरिष्ठ निदेशक काश पटेल, और भारत के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद निदेशक माइक पेसी शामिल हैं.