AAP की पंजाब इकाई ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करने को कहा

आप की पीएसी की केजरीवाल के आवास पर चार घंटे तक चली बैठक में पार्टी की पंजाब इकाई ने राहुल गांधी के नेतृत्व वाली पार्टी के साथ हाथ मिलाने को लेकर चिंता जाहिर की.

AAP की पंजाब इकाई ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करने को कहा
आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) की पंजाब इकाई के नेताओं और कार्यकर्ताओं के एक धड़े ने पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के साथ गुरुवार को एक बैठक में 2019 लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन की संभावना को लेकर चिंता जताई.

आप की राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) की यहां केजरीवाल के आवास पर चार घंटे तक चली बैठक में पार्टी की पंजाब इकाई ने राहुल गांधी के नेतृत्व वाली पार्टी के साथ हाथ मिलाने को लेकर चिंता जाहिर की. पंजाब में आप मुख्य विपक्षी दल है जहां कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार का शासन है.

क्या कहा आप नेताओं ने?
आप के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने पत्रकारों को बताया कि पीएसी पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं की राय पर 15 जनवरी के बाद एक बैठक में विचार करेगी और मौजूदा स्थिति के अनुसार गठबंधन पर निर्णय लेगी.

आप नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा,‘अभी तक, हमारा किसी भी पार्टी के साथ कोई गठबंधन नहीं है. हम पार्टी की भविष्य की योजनाओं पर कुछ नहीं कह रहे हैं.’

राय ने कहा,‘केजरीवाल के साथ बैठक में, कुछ लोगों ने कहा कि आप पंजाब में मुख्य विपक्षी पार्टी है जहां कांग्रेस सत्तारूढ़ पार्टी है, जो अपने वादों को पूरा करने में विफल रही है, इसलिए (कांग्रेस के साथ) मिलकर चुनाव लड़ना मुश्किल होगा.' 

(इनपुट - भाषा)