रिटायरमेंट के 2 दिन बाद ही जस्टिस रंजन गोगोई ने खाली किया सरकारी बंगला, जानिए अब कहां रहने लगे

बतौर चीफ जस्टिस वह 5 कृष्णा मेनन मार्ग (5 Krishna Menon Marg) स्थित अपने सरकारी बंगले में रहते थे. जस्टिस गोगोई 17 नवंबर को ही सेवानिवृत्त हुए थे.

रिटायरमेंट के 2 दिन बाद ही जस्टिस रंजन गोगोई ने खाली किया सरकारी बंगला, जानिए अब कहां रहने लगे
जस्टिस गोगोई 17 नवंबर को ही सेवानिवृत्त हुए थे...

नई दिल्‍ली : सेवानिवृत्ति के 2 दिन बाद ही तत्कालीन चीफ जस्टिस रंजन गोगोई (Justice Ranjan Gogoi) ने अपना सरकारी बंगला खाली कर दिया. बतौर चीफ जस्टिस वह 5 कृष्णा मेनन मार्ग (5 Krishna Menon Marg) स्थित अपने सरकारी बंगले में रहते थे. जस्टिस गोगोई 17 नवंबर को ही सेवानिवृत्त हुए थे.

जानकारी के अनुसार, उन्होंने 20 नवंबर को अपना सरकारी बंगला खाली कर दिया और वापस गुवाहाटी में अपने घर रहने आ गए. इससे पहले पूर्व सीजीआई जस्टिस खेहर ने एक हफ्ते के भीतर सरकारी बंगला खाली कर दिया था. 

जस्टिस रंजन गोगोई के बाद न्यायमूर्ति शरद अरविंद बोबडे ने बीते सोमवार को भारत के 47वें प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) के रूप में शपथ ली थी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें शपथ दिलाई. पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई ने 18 अक्टूबर को अपने उत्तराधिकारी के तौर पर सुप्रीम कोर्ट के दूसरे सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति बोबडे की सिफारिश की थी. न्यायमूर्ति बोबडे का कार्यकाल 18 महीनों का होगा, और वह 23 अप्रैल, 2021 को रिटायर होंगे.