अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला : दुबई से दिल्ली लाया गया क्रिश्चियन मिशेल, खोल सकता है बड़े राज

 मिशेल 3600 करोड़ रूपए के हेलीकॉप्टर सौदा मामले में भारतीय जांच एजेंसियों का वांछित है. पिछले महीने अदालत ने मिशेल के प्रर्त्यपण के लिए अनुमति प्रदान कर दी थी.

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला : दुबई से दिल्ली लाया गया क्रिश्चियन मिशेल, खोल सकता है बड़े राज

नई दिल्ली : अगस्ता वेस्ट लैंड मामले में भारत सरकार को बड़ी कामयाबी मिली है. अगस्ता वेस्ट लैंड में मुख्य आरोपी और वॉन्टेड क्रिश्चियन मिशल को मंगलवार रात दुबई से भारत लाया गया. इस मामले में मिशेल का प्रत्यर्पण बड़ी सफलता माना जा रहा है, क्योंकि वह इस मामले में कई बड़े राज उगल सकता है.

कहा जा रहा है कि बुधवार को सीबीआई उसे कोर्ट में पेश करेगी. इसे बड़ी कामयाबी इसलिए भी माना जा रहा है, क्योंकि मिशेल इस मामले में बड़े खुलासे कर सकता है. मिशेल 3600 करोड़ रूपए के हेलीकॉप्टर सौदा मामले में भारतीय जांच एजेंसियों का वांछित है. पिछले महीने अदालत ने मिशेल के प्रर्त्यपण के लिए अनुमति प्रदान कर दी थी.

आज ही प्रत्यर्पित किया जाएगा मिशेल
खलीज टाइम्स की एक खबर के अनुसार मिशेल (54) को दुबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा ले जाया गया.  यह प्रत्यर्पण प्रक्रिया इंटरपोल और सीआईडी के समन्वय में हो रही है. यह घटनाक्रम ऐसे दिन हुआ है जब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में अपने समकक्ष अब्दुल्ला बिन जायद से अबू धाबी में व्यापक बातचीत की.

डील में मिशेल को मिले थे 225 करोड़
भारत ने मिशेल के प्रत्यर्पण के लिए औपचारिक रूप से 2017 में अनुरोध किया था. यह अनुरोध सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से की गई आपराधिक जांच पर आधारित था. ईडी ने मिशेल के खिलाफ जून, 2016 में दाखिल अपने आरोप पत्र में कहा था कि मिशेल को अगस्ता वेस्टलैंड से 225 करोड़ रुपये मिले थे. आरोपपत्र के अनुसार वह राशि और कुछ नहीं बल्कि कंपनी की ओर से दी गयी ''रिश्वत'' थी.