सुशांत केस: सामने आया एम्स के डॉ. सुधीर गुप्ता का बयान, CBI उठाएगी ये कदम

डॉ. सुधीर गुप्ता उन पांच डॉक्टरों की टीम में शामिल थे जिन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की फॉरेंसिक रिपोर्ट तैयार की थी. 

सुशांत केस: सामने आया एम्स के डॉ. सुधीर गुप्ता का बयान, CBI उठाएगी ये कदम
डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने एक और फॉरेंसिक जांच की जरूरत पर बल दिया....

नई दिल्ली: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (‌Sushant Singh Rajput) मामले में एम्स के डॉ. सुधीर गुप्ता (Dr. Sudhir Gupta) का बड़ा बयान सामने आया है. डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने कहा है कि हत्या या आत्महत्या का निष्कर्ष निकालना मुश्किल है. उन्होंने इस मामले में और फॉरेसिंक जांच की जरूरत बताई है. सीबीआई को रिपोर्ट सौंपे जाने पर उन्होंने कहा कि सबूतों के आधार पर CBI को रिपोर्ट सौंपी है.

आपको बता दें डॉक्टर सुधीर गुप्ता उन पांच डॉक्टरों की टीम में शामिल थे जिन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की फॉरेंसिक रिपोर्ट तैयार की थी. इधर, सीबीआई की टीम एम्स से विसरा के सैम्पल समेत बाकी साइंटिफिक सैम्पल अपने साथ ले गई. सीबीआई अब इस सैम्पल की जांच बाकी दूसरी बड़ी फोरेंसिक लैब से भी करवाएगी. 

मुंबई पुलिस कमिश्नर बोले- हमारा जांच प्रोफेशनल थी
अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस में एम्स की रिपोर्ट को लेकर मुंबई कमिश्नर परमबीर सिंह का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा, 'कूपर के डॉक्टरों ने प्रोफेशनल पोस्टमॉर्टम किया था. जब हमसे सुप्रीम कोर्ट ने प्रोग्रेस रिपोर्ट मांगी थी, तो कोर्ट ने इस पर संतोष प्रकट किया था. ये रिपोर्ट सिर्फ 5-6 लोगों ने देखी थी. जिन्होंने इसकी आलोचना की थी, बिना देखे की. सब निहित स्वार्थ के चलते कर रहे थे.' 

सिंह ने आगे कहा, 'हमारा तो हमेशा यही स्टैंड था कि हमारी जांच प्रोफेशनल थी और कूपर डॉक्टरों ने भी अच्छा काम किया. हमने अपने सभी जांच रिपोर्ट सीबीआई को सौंप दी हैं. हमारा काम प्रोफेशनल है. ADR की जांच में छह महीने लगते है और कोई विलंब नहीं था. AIIMS  की रिपोर्ट में दम घुटने और आत्महत्या की बात है. सीबीआई की जांच के बारे में नहीं पता है, प्रोफेशनल एजेंसी है.' 

शिवसेना नेता संजय राउत ने साधा निशाना
सुशांत ममले में सीबीआई की जांच पर हो रहे सवाल पर शिवसेना नेता संजय राउत ने निशाना साधा है. राउत ने आज कहा, 'पहले मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं हुआ तो सुप्रीम कोर्ट गए और जांच सीबीआई को दे दी गई. अब सीबीआई पर भी भरोसा नहीं है. फिर इंटरनेशनल कोर्ट, सीआईए या पिर केजीबी के पास जाएं.' राउत ने कहा कि इस पूरे मामले महाराष्ट्र सरकार, पुलिस और ठाकरे परिवार को बदनाम करने की कोशिश की गई. 

(इनपुट: प्रमोद शर्मा)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.