अमरिंदर ने पीएम मोदी पर लगाया आचार संहिता उल्लंघन का आरोप, चुनाव आयोग से की कार्रवाई की मांग

पीएम मोदी द्वारा महाराष्ट्र में दिए गए भाषण को अमरिंदर सिंह ने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का स्पष्ट मामला करार दिया. 

अमरिंदर ने पीएम मोदी पर लगाया आचार संहिता उल्लंघन का आरोप, चुनाव आयोग से की कार्रवाई की मांग
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो)

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बालाकोट हवाई हमले का जिक्र कर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है. उन्होंने निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर मोदी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग भी की है. 

पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा महाराष्ट्र में दिए गए भाषण को उन्होंने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का स्पष्ट मामला करार दिया. अमरिंदर ने यह भी कहा कि इस तरह की चीजों को रोकने में ‘विफल’ रहने से निर्वाचन आयोग पर ‘पक्षपात’ के आरोप लगेंगे.

मुख्यमंती ने लिखा चुनाव आयोग को पत्र
मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री ने पीएम मोदी द्वारा भाषण में पहली बार मतदान करने वालों को ‘लुभाने’ के लिए बालाकोट आतंकी शिविर पर भारतीय वायुसेना के सफल हवाई हमले और पुलवामा हमले के शहीदों का जिक्र किए जाने का कड़ा विरोध किया है.

वहीं, दूसरी ओर पंजाब सरकार ने बुधवार को कहा कि पुलिस महानिरीक्षक कुंवर विजस प्रताप सिंह ने मीडिया को इंटरव्यू देकर आचार संहिता का कोई उल्लंघन नहीं किया है. निर्वाचन आयोग ने इस इंटरव्यू को राजनीति से प्रेरित बताया था और इसकी वजह से अधिकारी को तबादले का सामना करना पड़ा.

'पुलिस महानिरीक्षक को कार्यमुक्त किए जाने के आदेश की समीक्षा की जाए'
मुख्य निर्वाचन आयुक्त को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आग्रह किया कि बेअदबी और पुलिस गोलीबारी की घटनाओं की जांच कर रही एसआईटी के सदस्य के रूप में संबंधित पुलिस महानिरीक्षक को कार्यमुक्त किए जाने के आदेश की समीक्षा की जाए.

अकाली दल की शिकायत के बाद निर्वाचन आयोग ने आचार संहिता के ‘उल्लंघन’मामले में पुलिस महानिरीक्षक को वर्तमान पद से हटाने का पंजाब सरकार को आदेश दिया था. सिंह को वर्तमान पद से हटाकर अब महानिरीक्षक (काउंटर इंटेलीजेंस) अमृतसर बनाया गया है.