कैप्‍टन अमरिंदर सिंह बनाएंगे नई पार्टी, BJP के साथ गठबंधन पर किया ये ऐलान
X

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह बनाएंगे नई पार्टी, BJP के साथ गठबंधन पर किया ये ऐलान

अमरिंदर सिंह के मीडिया एडवाइजर रवीन ठुकराल की ओर से किए गए ट्वीट के मुताबिक पंजाब के भविष्य के लिए लड़ाई जारी रहेगी और पंजाब चुनाव में अमरिंदर की पार्टी बीजेपी से गठबंधन भी कर सकती है. आगे लिखा गया है कि पंजाब की शांति और स्थिरता लाने के मकसद से ऐसा फैसला लिया है.

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह बनाएंगे नई पार्टी, BJP के साथ गठबंधन पर किया ये ऐलान

नई दिल्ली: पंजाब कांग्रेस में मचा सियासी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है. कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री पद छोड़ने के बाद से लगातार पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी हो रही हैं. अब अमरिंदर सिंह ने पंजाब में नई पार्टी बनाने का ऐलान किया है, साथ ही उन्होंने बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने के भी संकेत दिए हैं.

बीजेपी से गठबंधन के संकेत

कैप्टन अमरिंदर सिंह के मीडिया एडवाइजर रवीन ठुकराल की ओर से किए गए ट्वीट के मुताबिक पंजाब के भविष्य के लिए लड़ाई जारी रहेगी और पंजाब विधान सभा चुनाव में अमरिंदर की पार्टी बीजेपी से गठबंधन भी कर सकती है. आगे लिखा गया है कि पंजाब की शांति और स्थिरता लाने के मकसद से ऐसा फैसला लिया है.

समान विचारधारा के लोगों को दिया न्योता

अमरिंदर सिंह की ओर से कहा गया है कि अकाली गुटों से अलग हुए दलों सहित समान विचारधारा वाली पार्टियों को साथ लेकर उनके साथ गठबंधन करने का भी विचार है. इसके अलावा अगर किसान आंदोलन का समाधान उनके हित में हो जाता है तो पंजाब में बीजेपी के साथ समझौते की भी उम्मीद है.

कैप्टन की ओर से नई पार्टी के ऐलान के साथ ही इस पर सियासी दलों की प्रतिक्रिया आना शुरू हो चुकी हैं. अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि कैप्टन की पार्टी कुछ दिनों बाद बीजेपी की बी टीम साबित होगी. उन्होंने कहा कि वह दिल्ली में अमित शाह से मिलकर आए थे, पता नहीं दोनों के बीच क्या चर्चा हुई थी. 

ये भी पढ़ें: उत्तराखंड में बारिश ने मचाई तबाही; 38 की मौत, मलबे में फंसे कई लोग

कांग्रेस छोड़ने का किया था ऐलान

पंजाब के मुख्यमंत्री का पद छोड़ने के बाद ही कैप्टन साफ कर चुके थे कि वह अब कांग्रेस में नहीं हैं. उन्होंने कहा था कि वह अपमान नहीं सहेंगे और कांग्रेस में अब नहीं रहेंगे, क्योंकि जैसा बर्ताव उनके साथ किया गया है वह ठीक नहीं है. अमरिंदर से सीएम पद लेकर कांग्रेस हाई कमान ने पिछले दिनों चरणजीत चन्नी को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया था और इसके पीछे की वजह सिद्धू और कैप्टन की तकरार को माना गया.

सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन ने सिद्धू को देशविरोधी और पाकिस्तान परस्त करार दिया था. साथ ही उन्होंने ऐलान किया था कि अगर कांग्रेस सिद्धू को पंजाब चुनाव में चेहरा बनाती है तो वह उनके खिलाफ अपना उम्मीदवार उतारने के लिए तैयार हैं.

Trending news