close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र में कुर्सी की लड़ाई दिल्ली पहुंची, आज देवेंद्र फड़णवीस दिल्ली में अमित शाह से मिलेंगे

महाराष्ट्र में सरकार गठन के संकट के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस केंद्रीय गृहमंत्री और बीजेपी अमित शाह से मिलने के लिए दिल्ली आ रहे हैं. 

महाराष्ट्र में कुर्सी की लड़ाई दिल्ली पहुंची, आज देवेंद्र फड़णवीस दिल्ली में अमित शाह से मिलेंगे
अनुमान लगाया जा रहा है कि देवेन्द्र फड़नवीस अमित शाह को राज्य की वर्तमान राजनीतिक स्थिति के बारे मे अवगत कराएंगे.

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन के संकट के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis), केंद्रीय गृहमंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) से मिलने के लिए दिल्ली आ रहे हैं. अनुमान लगाया जा रहा है कि फड़नवीस, शाह को राज्य की वर्तमान राजनीतिक स्थिति के बारे मे अवगत कराएंगे. साथ ही आने वाले दिनो क्या फैसले लिए जाए इस पर विचार-विमर्श करेंगे. सूत्रों के मुताबिक, फडणवीस केंद्र सरकार से बारिश से प्रभावित किसानों को राहत देने के लिए और ज्यादा आर्थिक मदद की मांग कर सकते हैं. इससे पहले, फडणवीस ने रविवार को कहा कि राज्य सरकार ने फसल खाराब होने पर किसानों को 10 हजार करोड़ की आर्थिक मदद दी है. सरकार किसानों के साथ खड़ी है. उन्हें और मदद मुहैया कराएगी. 

इधर, उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा है कि आगे आने वाले समय में सबको पता चल जाएगा कि महाराष्ट्र में किसकी सरकार बनेगी. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणाम आए 10 दिन गुजर चुके हैं लेकिन सरकार बनने को लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं है. 24 अक्टूबर को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का रिजल्ट आया था. अब तक यह तय नहीं हो पाया है कि महाराष्ट्र में क्या शिवसेना बीजेपी का सरकार बनाने के लिए साथ निभाएगी? क्या सरकार बनाने के लिए शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी का साथ लेगी? इस पर शिवसेना का कहना है कि पीडीपी और तेलुगू देशम पार्टी से विपरीत विचारधारा होने के बावजूद भी बीजेपी ने उनके साथ सरकार बनाई थी. साथ ही शिवसेना यह भी कह रही है कि समान विचारधारा राजनीति में क्या होती है? वो आने वाला वक्त बताएगा.

शिवसेना ने अब ये साफ कर दिया है कि वो जल्द ही वेट एंड वॉच की भूमिका छोड़ देगी. शिवसेना नेता संजय राउत ने दावा किया है कि महाराष्ट्र की जनता के सामने उनकी ही पार्टी का सीएम शपथ लेगा. इसके लिए उन्होंने 170 विधायकों के समर्थन का दावा भी किया है. कहा जा रहा है कि शिवसेना राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से संपर्क में है. हालांकि एनसीपी नेता अजीत पवार ने संजय राउत से किसी बातचीत से इंकार किया है लेकिन उनकी ही पार्टी के नेता ने कहा है कि अगर शिवसेना कहती है कि उनका मुख्यमंत्री बनेगा तो ये बिल्कुल मुमकिन है. 

LIVE टीवी: 

सीएम पद के लिए शिवसेना हर तरफ से बीजेपी को घेरने में जुटी है. संजय राउत ने कहा है कि येदियुरप्पा फॉर्मेट की राजनीति महाराष्ट्र में नहीं चलेगी. विपक्ष शिवसेना-बीजेपी के बीच खींचतान पर न सिर्फ अफसोस जता रही है बल्कि उद्धव ठाकरे को ये भी सलाह दे रही है कि मुख्यमंत्री बनना है तो डरने की जरूरत नहीं.