close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश को एकता की डोर में बांधने का काम अगर कोई एक भाषा कर सकती है तो वह हिंदी ही है: अमित शाह

शाह ने  कहा, 'भारत विभिन्न भाषाओं का देश है और हर भाषा का अपना महत्व है परन्तु पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है जो विश्व में भारत की पहचान बने. 

देश को एकता की डोर में बांधने का काम अगर कोई एक भाषा कर सकती है तो वह हिंदी ही है: अमित शाह
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ( Amit Shah) ने शनिवार को 'हिंदी दिवस' के अवसर पर देश को शुभकामनाएं दीं. अमित शाह ने नागरिकों से महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) और सरदार वल्लभभाई पटेल (Sardar Patel) के सपनों को साकार करने के लिए अपने रोजमर्रा के कामों में हिंदी (Hindi)भाषा का प्रयोग बढ़ाने के लिए आग्रह किया. 

शाह ने हिंदी में ट्वीट कर कहा, 'भारत विभिन्न भाषाओं का देश है और हर भाषा का अपना महत्व है परन्तु पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है जो विश्व में भारत की पहचान बने. आज देश को एकता की डोर में बांधने का काम अगर कोई एक भाषा कर सकती है तो वो सर्वाधिक बोली जाने वाली हिंदी भाषा ही है.'

उन्होंने आगे कहा, 'आज हिंदी दिवस के अवसर पर मैं देश के सभी नागरिकों से अपील करता हूं कि हम अपनी-अपनी मातृभाषा के प्रयोग को बढ़ाएं और साथ में हिंदी भाषा का भी प्रयोग कर पूज्य बापू और लौह पुरुष सरदार पटेल के देश की एक भाषा के स्वप्न को साकार करने में योगदान दें. हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.'

Amit Shah says use Hindi to make Bapu, Patel's dreams a reality

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हिंदी दिवस पर देशवासियों को बधाई दी. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'हिंदी दिवस पर आप सभी को बहुत-बहुत बधाई. भाषा की सरलता, सहजता और शालीनता अभिव्यक्ति को सार्थकता प्रदान करती है. हिंदी ने इन पहलुओं को खूबसूरती से समाहित किया है.'

हिंदी दिवस हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है, जो उस दिन के महत्व को दर्शाता है जब देश की संविधान सभा ने हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया.

हिंदी, देश की 22 अनुसूचित भाषाओं में से एक है.