हैदराबाद में बोले शाह, 'राहुल गांधी को हम साढ़े चार सालों का हिसाब नहीं देना चाहते'

अमित शाह हैदराबाद में भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) के विजय लक्ष्य 2019 कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे.

हैदराबाद में बोले शाह, 'राहुल गांधी को हम साढ़े चार सालों का हिसाब नहीं देना चाहते'
अमित शाह ने कहा कि सत्ता में आने के बाद हैदराबाद लिबरेशन डे फिर से मनाया जाएगा.

हैदराबाद: हैदराबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी हमसे पिछले साढ़े चार सालों का हिसाब मांग रहे हैं. मैं उनको बता देना चाहता हूं कि हम उनको हिसाब नहीं देंगे, क्योंकि उन्हें हिसाब मांगने का अधिकार नहीं है. आपकी चार पीढ़ी ने शासन किया, लेकिन गरीबों का भला नहीं किया गया. शाह ने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी मेक इन इंडिया कर रहे हैं, दूसरी तरफ महागठबंधन ब्रेक इन इंडिया कर रहे हैं.

हैदराबाद में भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) के विजय लक्ष्य 2019 कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने चंद्रशेखर राव को निशाने पर लिया. शाह ने कहा कि चंद्रेशेखर राव असदुद्दीन ओवैसी से डरते हैं. इसलिए, 17 सितंबर को हैदराबाद लिबरेशन डे नहीं मनाया गया. लेकिन, हम जब सत्ता में आएंगे तो एकबार फिर से हैदराबाद लिबरेशन डे मनाया जाएगा. बता दें, जिस दिन हैदराबाद प्रांत स्वतंत्र भारत में विलय हुआ था उस दिन को हैदराबाद लिबरेशन डे के रूप में मनाया जाता है. 

 

 

अपने संबोधन में शाह ने कहा कि भारत के लिए तेलंगाना के लोगों ने जान की आहुति दी, लेकिन चंद्रशेखर सरकार ने उस दिन को मनाना छोड़ दिया है. उन्होंने कहा कि 2019 का परिणाम अभी से निश्चित है. नरेंद्र मोदी फिर से देश के प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं.

अपने संबोधन में शाह ने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी का सौभाग्य है कि राष्ट्र और विचारधारा को समर्पित ऐसी युवा शक्ति हमारे पास है. उन्होंने युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं से आवाहन किया कि वे मोदी सरकार की लोक-कल्याणकारी नीतियों को घर-घर तक पहुंचायें और एक ऐसी प्रचंड विजय की नींव रखें जिससे परिवारवाद और तुष्टिकरण की राजनीति करने वाली सभी विपक्षी पार्टियों को 2019 के बाद दूरबीन लेकर ढूंढना पड़े.