गुजरात: घर में मिला लापता बच्चे का कंकाल, मां-बेटी गिरफ्तार

गुजरात के अंकलेश्वर कस्बे में पुलिस ने राज्य के विभिन्न हिस्सों से बच्चों के अपहरण के सिलसिले में एक 40 वर्षीय महिला और उसकी बेटी को संदेह के आधार पर गिरफ्तार किया है.

गुजरात: घर में मिला लापता बच्चे का कंकाल, मां-बेटी गिरफ्तार
घर में मिला बच्चे का कंकाल (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वडोदरा: गुजरात के अंकलेश्वर कस्बे में पुलिस ने राज्य के विभिन्न हिस्सों से बच्चों के अपहरण के सिलसिले में एक 40 वर्षीय महिला और उसकी बेटी को संदेह के आधार पर गिरफ्तार किया है. भरूच जिले के अंकलेश्वर में शुक्रवार को महिला के घर के पिछले हिस्से में सात वर्षीय विक्की देवी पूजक का कंकाल बरामद हुआ. कंकाल मिलने के बाद पुलिस ने मामले में राशिदा पटेल और उसकी बेटी मोहसिना (19) को गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि जिस बच्चे का कंकाल बरामद किया गया है वह शहर के गुरुद्वारा इलाके से मार्च 2016 से लापता था. जानकारी के मुताबिक एक बच्चे से मिले बयान के आधार पर महिला और उसकी बेटी के खिलाफ कार्रवाई की गई है.

सबूत मिटाने के लिए घर में ही गाड़ दिया शव
अंकलेश्वर पुलिस के निरीक्षक जे जी अमीन ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि, बच्चे की मौत की वजह सुनिश्चित करने के लिए शव को फोरेंसिक प्रयोगशाला भेजा गया है. उन्होंने कहा कि जब आरोपी महिला राशिदा से मामले में पूछताछ की गई तो उसने बताया कि कीटनाशक पीने के बाद बच्चे की मौत हो गई थी. इसके बाद उन्होंने शव को छुपाने के लिए अपने घर के पिछले हिस्से में गड्ढा खोदकर उसे वहीं दफना दिया था. अब जाकर बच्चे का कंकाल बरामद किया गया है.

पहले भी हो चुकी है गिरफ्तारी
बताया जा रहा है कि इस ताजे मामले से पहले पुलिस राशिदा और मोहसिना को इसी साल 17 मार्च को भी गिरफ्तार कर चुकी थी. उन पर सात वर्षीय एक बच्चे के अपहरण का आरोप लगा था, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. 17 मार्च को सामने आए मामले में बच्चे का अपहरण 17 नवंबर 2017 को अंकलेश्वर से किया गया था.

बहन के कंकाल के साथ रहने वाले भाई की डायरी से हुए 5 सनसनीखेज खुलासे

यह बच्चा हालांकि किसी तरह से बचकर 16 मार्च को घर लौट आया था. उसके घर लौटने पर परिजनों ने पुलिस को सूचना दी. बच्चे द्वारा मुहैया कराई गई जानकारी के आधार पर राशिदा और उसकी बेटी को गिरफ्तार किया गया था. जिसके बाद पूछताछ में उन्होंने कई खुलासे किए. इस आधार पर उनके घर की तलाशी ली गई, जहां बच्चे का कंकाल पाया गया.