सेना प्रमुख नरवणे का बड़ा हमला, कुर्सी संभालते ही पाकिस्तान को दिया ये 'खास संदेश'

जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा कि पड़ोसी देश संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है.

सेना प्रमुख नरवणे का बड़ा हमला, कुर्सी संभालते ही पाकिस्तान को दिया ये 'खास संदेश'

नई दिल्ली: देश के नए सेना प्रमुख का जिम्मा संभालने के बाद जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Manoj Mukund Naravane) ने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है. हम इस बात से अवगत हैं कि तमाम लॉन्चपैड्स पर दूसरी तरफ आतंकवादी हैं जो देश की सीमा में घुसने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन सेना इस खतरे से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

सेना प्रमुख ने कहा, ''पड़ोसी देश हमारे खिलाफ छद्म युद्ध करने के एक तरीके के रूप में आतंकवाद को एक टूल के रूप में इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहा है. हालांकि, यह अवस्था अधिक समय तक नहीं चल सकता, क्योंकि कहा जाता है कि आप सभी लोगों को हर समय मूर्ख नहीं बना सकते.''

आतंकवाद एक वैश्विक समस्या
जनरल नरवणे ने कहा, 'आतंकवाद एक वैश्विक समस्या है. भारत सालों से आतंकवाद प्रभावित रहा है. अब पूरी दुनिया और कई देश आतंकवाद से पीड़ित हैं और उन्हें इस खतरे का अहसास हो रहा है.'

अनुच्छेद 370 से मिला फायदा
उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर कहा कि अनुच्छेद 370 के हटाने के बाद जमीन पर स्थिति में निश्चित सुधार हुआ है. हिंसा की घटनाओं में एक उल्लेखनीय गिरावट देखी गई है, यह जम्मू और कश्मीर की आबादी के लिए बहुत अच्छी बात है. यह क्षेत्र में शांति और समृद्धि लाने की दिशा में एक कदम है.

जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने संभाली सेना की कमान, जनरल बिपिन रावत की जगह ली
बता दें सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत आज रिटायर हो गए हैं. उनकी जगह अब जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने सेना प्रमुख का पद संभाल लिया है. मंगलवार को बिपिन रावत की मौजूदगी में ही उन्होंने पदभार को ग्रहण किया. लेफ्टिनेंट जरनल नरवणे अभी तक सेना के उप प्रमुख का पद संभाल रहे थे. जनरल मनोज नरवणे देश के 28वें सेना प्रमुख हैं.