close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अरुण जेटली के निधन पर उद्धव ठाकरे ने कहा - शिवसेना की निजी तौर पर क्षति हुई है

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शोक संदेश पत्र जारी कर कहा कि अरुण जेटली के निधन एक बड़ा सदमा है, उनके जाने से शिवसेना की निजी तौर पर क्षति हुई है. 

अरुण जेटली के निधन पर उद्धव ठाकरे ने कहा - शिवसेना की निजी तौर पर क्षति हुई है
बीजेपी के कद्दावर नेता अरुण जेटली के चले जाने की खबर सुनते ही राजनीतिक जगत में मायूसी छा गई है.

मुंबई: पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर शनिवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गहरा शोक जताया है. ठाकरे ने शोक संदेश पत्र जारी कर कहा कि अरुण जेटली के निधन एक बड़ा सदमा है, उनके जाने से शिवसेना की निजी तौर पर क्षति हुई है. अरुण जेटली के जाने से राष्ट्रीय लोकतंत्र को एकजुट रखने वाला एक मजबूत स्तंभ टूट गया है. उन्होंने मोदी सरकार में संकटमोचक की भूमिका निभाई. शिवसेना-बीजेपी का संबंध अच्छे से टिका और बना रहे उसे मानने वालों में से जेटली थे. 

बीजेपी के कद्दावर नेता अरुण जेटली के चले जाने की खबर सुनते ही राजनीतिक जगत में मायूसी छा गई है. तमाम नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें कद्दावर बुद्धिजीवी बताया. मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘‘जेटली जीवन से परिपूर्ण, प्रबुद्ध, हास्य-विनोद से परिपूर्ण और करिश्माई शख्सियत थे, उनके जाने से मैंने एक मूल्यवान मित्र खो दिया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जेटली एक बहुआयामी व्यक्तित्व वाले, संविधान, इतिहास, लोक नीति, शासन और प्रशासन के प्रखर ज्ञाता थे.’’

वित्त मंत्री के रूप में अरुण जेटली के 10 क्रांतिकारी फैसले जो इतिहास में दर्ज हो गए

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह ने जेटली के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए इसे व्यक्तिगत क्षति बताया. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘अरुण जेटली जी के निधन से अत्यंत दुखी हूं, जेटली जी का जाना मेरे लिये एक व्यक्तिगत क्षति है. उनके रूप में मैंने ना सिर्फ संगठन का एक वरिष्ठ नेता खोया है बल्कि परिवार का एक ऐसा अभिन्न सदस्य भी खोया है जिनका साथ और मार्गदर्शन मुझे वर्षों तक प्राप्त होता रहा.’’ 

 

कांग्रेस ने कहा, ‘‘हमें अरुण जेटली जी के निधन के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ है. दुख की इस घड़ी में हमारी संवेदनाएं और प्रार्थना उनके परिवार के साथ हैं.’’ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी जेटली के असमय निधन पर शोक व्यक्त करते हुए इसे देश के लिए बड़ी क्षति बताया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ पूर्व वित्त मंत्री एवं वरिष्ठ नेता श्री अरुण जेटली का असमय निधन देश के लिए एक बड़ी क्षति है. कानून विशेषज्ञ और एक अनुभवी राजनेता, जिन्हें उनके शासन कौशल के लिए पहचाना जाता था, देश उन्हें याद करेगा. दुख की इस घड़ी में हमारी संवेदनाएं एवं प्रार्थना उनके परिवार के साथ हैं.’’ 

अरुण जेटली ने इमरजेंसी के दौरान जेल में काटे थे 19 महीने, जानें कैसे शुरू की थी छात्र राजनीति

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, ‘‘अरुण जेटली जी के निधन से बेहद दुखी हूं. एक बेहतरीन सांसद एवं बेमिसाल वकील, सभी दल उनका सम्मान करते थे. भारतीय राजनीति में उनके योगदान को याद किया जाएगा. उनकी पत्नी, बच्चों, दोस्तों और प्रशंसकों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं.’’