close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विराट कोहली ने अरुण जेटली को किया याद, इस भावुक ट्वीट के जरिए दी श्रद्धांजलि

जेटली के निधन से भारतीय क्रिकेट जगत स्तब्ध है.

विराट कोहली ने अरुण जेटली को किया याद, इस भावुक ट्वीट के जरिए दी श्रद्धांजलि
कोहली एंड कंपनी इन दिनों वेस्टइंडीज दौरे पर हैं. (फाइल)

नई दिल्ली: देश के पूर्व वित्तमंत्री और उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन पर क्रिकेट जगत की कई हस्तियों ने गहरा दुख प्रकट किया है. इनमें टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli), पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir), वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag), आकाश चोपड़ा (Akash Chopra) शामिल हैं.

कोहली ने ट्विटर पर शोक संदेश में लिखा, "श्री अरुण जेटली जी के निधन के बारे में सुनकर हैरान और दुखी. वह वास्तव में एक अच्छे इंसान थे. हमेशा दूसरों की मदद करने को तैयार रहते थे. साल 2006 में जब मेरे पिता का निधन हो गया था तब वे अपना कीमती समय निकालकर मेरे घर आए और अपनी संवेदना व्यक्त की. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे.''

गंभीर ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘पिता आपको बोलना सिखाते हैं लेकिन पिता तुल्य व्यक्ति आपको बातचीत करना सिखाता है. पिता आपको चलना सिखाता है लेकिन पिता तुल्य व्यक्ति आपको आगे बढ़ना सिखाता है. पिता आपको नाम देता है लेकिन पिता तुल्य व्यक्ति आपको पहचान देता है. मेरे पिता तुल्य अरुण जेटली जी के निधन से मेरा एक हिस्सा उनके साथ चला गया. भगवान आपकी आत्मा शांति दे सर’

सहवाग अपने शोक संदेश में लिखते हैं, ''अरुण जेटली जी के निधन पर दुखी हूं. सार्वजनिक जीवन में बहुतों की सेवा करने के अलावा जेटली जी की वजह से ही दिल्ली के कई खिलाड़ियों को भारत का प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिला. एक समय था जब दिल्ली के कई खिलाड़ियों को उच्चतम स्तर पर मौका नहीं मिला था, लेकिन डीडीसीए में उनके नेतृत्व में मेरे सहित कई खिलाड़ियों को भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला. उन्होंने खिलाड़ियों की जरूरतों को सुनकर समस्या हल की. निजी तौर पर उनके साथ एक बहुत ही खूबसूरत रिश्ते थे. मेरे संवेदनाएं उनके परिवार और प्रियजनों के साथ हैं. शांति''

एक राजनेता और वकील होने के अलावा जेटली का क्रिकेट प्रेम किसी से छिपा नहीं था. वे लंबे समय तक दिल्ली जिला क्रिकेट संघ (DDCA) के अध्यक्ष रहे थे, और उनका हमेशा ही क्रिकेट जगत से गहरा संबंध रहा. उनके जाने से भारतीय क्रिकेट जगत स्तब्ध है.

एम्स में निधन
गौरतलब हो कि अरुण जेटली का शनिवार दोपहर 12 बजकर 07 मिनट पर निधन हो गया. कुछ दिन पहले सांस लेने में दिक्कत के बाद उन्हें 9 अगस्त को एम्स में भर्ती कराया गया था. पिछले कुछ दिनों से उनकी स्थिति स्थिर बताई जा रही थी. गुरुवार को उनका डायलिसिस हुआ था.

लंबे समय से बीमार चल रहे थे जेटली
जेटली का गुरुवार को डायलिसिस हुआ था. वे 66 वर्ष के थे. वे यहां एम्स में 9 अगस्त से भर्ती थे और उनका इलाज वरिष्ठ डॉक्टरों की निगरानी में हो रहा था. पिछले दिनों अरुण जेटली को एक्‍स्‍ट्राकारपोरल मेंब्रेन ऑक्‍सीजनेशन (ECMO) और इंट्रा ऐरोटिक बैलून (IABP) सपोर्ट पर रखा गया था. जेटली लगातार 13 साल तक डीडीसीए के अध्यक्ष रहे थे. वे 1999 से लेकर 2012 तक डीडीसीए तक अध्यक्ष रहे. उनके कार्यकाल में दिल्ली क्रिकेट को एक विश्व स्तरीय क्रिकेट स्टेडियम, फिरोजशाह कोटला के नवीकरण जैसी सुविधाएं मिली थीं.

कुशल क्रिकेट प्रशासक
अरुण जेटली के बचपन से क्रिकेट का शौक रहा था. उन्होंने अपनी युवाअवस्था में काफी क्रिकेट खेला भी था, बाद में वे कुशल क्रिकेट प्रशासक साबित हुए.