close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केंद्रीय मंत्री ने शत्रुघ्‍न सिन्‍हा को कहा 'खामोश', बोले- 'खुद छोड़ दीजिए BJP'

बीते 31 जनवरी को ही भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा था कि सिर्फ समय बताएगा कि अगले लोकसभा चुनावों के दौरान वह क्या राजनीतिक विकल्प चुनेंगे और उन्होंने इन अटकलों को भी तवज्जो नहीं दी कि उनकी पार्टी उन्हें टिकट देने से इनकार कर सकती है.

केंद्रीय मंत्री ने शत्रुघ्‍न सिन्‍हा को कहा 'खामोश', बोले- 'खुद छोड़ दीजिए BJP'
केंद्रीय राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो ने सिन्‍हा के बगावती बयानों को लेकर कहा कि अगर उन्‍हें इतनी नफरत है तो वे रोज संसद में आकर क्‍यों बैठते हैं. (फोटो ANI)

नई दिल्‍ली : भाजपा से असंतुष्‍ट चल रहे पार्टी के वरिष्‍ठ नेता एवं पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के ऐसे बयानों पर मोदी सरकार के एक मंत्री की तरफ से शनिवार को कड़ी प्रतिक्रिया सामने आई. केंद्रीय राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो ने सिन्‍हा के बगावती बयानों को लेकर कहा कि अगर उन्‍हें (शत्रुघ्‍न सिन्‍हा को) इतनी नफरत है तो वे रोज संसद में आकर क्‍यों बैठते हैं. साथ ही उन्‍होंने अपने वरिष्‍ठ नेता को यह नसीहत भी दे डाली कि वे 'तीन तलाक' लेकर खुद बीजेपी को छोड़ दें.

क्‍यों ऐसे हालात पैदा करते हैं कि दूसरों को बोलना पड़े 'खामोश'- बाबुल सुप्रियो
बाबुल सुप्रियो ने न्‍यूज एजेंसी ANI से बातचीत में कहा, 'शत्रुघ्‍न सिन्‍हा जी को बोलता हूं आपको इतनी नफरत है तो क्‍यों रोज आकर संसद में बैठते हैं? क्‍यों ऐसे हालात पैदा करते हैं कि दूसरों को बोलना पड़े 'खामोश'. ड्रेसिंग रूम की बात वहीं रहनी चाहिए. आप तीन तलाक दीजिए और खुद छोड़ दीजिए बीजेपी'.

 

 

सिर्फ समय बतायेगा कि मैंने क्या राजनीतिक विकल्प चुना : शत्रुघ्न सिन्हा
उल्‍लेखनीय है कि बीते 31 जनवरी को ही भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा था कि सिर्फ समय बताएगा कि अगले लोकसभा चुनावों के दौरान वह क्या राजनीतिक विकल्प चुनेंगे और उन्होंने इन अटकलों को भी तवज्जो नहीं दी कि उनकी पार्टी उन्हें टिकट देने से इनकार कर सकती है. अभिनेता से राजनेता बने सिन्हा ने असंतुष्ट भाजपा नेता यशवंत सिन्हा के ‘राष्ट्र मंच’ में हिस्सा लिया था. उन्होंने इस मंच पर सरकारी नीतियों को आड़े हाथों लेते हुये कहा था कि भाजपा के अंदर ऐसा कोई मंच नहीं जहां वह अपनी बात रख सकें.

अगला चुनाव लड़ने पर आप संदेह क्यों कर रहे हैं- सिन्‍हा
एक कार्यक्रम के इतर यह पूछे जाने पर कि क्या वह अगला लोकसभा चुनाव लड़ेंगे, सिन्हा ने पलट कर सवाल पूछा, ‘‘आप इस पर संदेह क्यों कर रहे हैं?’’ सिन्हा हाल के दिनों में केंद्र की नीतियों का कड़ा विरोध करते रहे हैं. जब उनसे इन अटकलों को लेकर सवाल पूछा गया कि पार्टी नेतृत्व सरकार के खिलाफ सार्वजनिक हमलों को लेकर उनका टिकट काट सकती है, उन्होंने कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों के दौरान भी ऐसा ही दावा किया गया था और उनका नाम उन लोगों में शामिल था जिनका नाम सबसे आखिर में घोषित किया गया था. 

कहां से लड़ूंगा या नहीं लड़ूंगा...सिर्फ समय बतायेगा- शत्रुघ्न सिन्हा
उन्होंने कहा, ‘‘यह मुद्दा नहीं कि वे (भाजपा) मुझे टिकट देंगे या नहीं. इस पर भी विचार किया जायेगा कि वे मुझे टिकट क्यों नहीं देंगे. मेरे पास सबसे ज्यादा वोट शेयर का मार्जिन है...दूसरा, यह कि मैं इसे लूंगा या नहीं, या कहां से लड़ूंगा या नहीं लड़ूंगा...सिर्फ समय बतायेगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे कोई चिंता नहीं. मैं निर्भय हूं.’’ सिन्हा ने 2014 का लोकसभा चुनाव पटना साहिब सीट से 55 फीसद से ज्यादा मत हासिल कर जीता था.