इमरान की पार्टी के पूर्व विधायक का भारतीय वीजा खत्म, बोले- नहीं जाना पाकिस्तान

पिछले तीन महीने से बलदेव कुमार पंजाब के खन्ना शहर में आपने ससुराल में रह रहे हैं.

इमरान की पार्टी के पूर्व विधायक का भारतीय वीजा खत्म, बोले- नहीं जाना पाकिस्तान
तहरीक-ए-इंसाफ के पूर्व विधायक बलदेव कुमार.

हरप्रीत प्रिंस, लुधियाना: पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ के पूर्व विधायक बलदेव कुमार का तीन महीने का भारतीय वीजा (Indian Visa) मंगलवार (12 नवंबर) को खत्म हो गया. पिछले तीन महीने से बलदेव कुमार पंजाब के खन्ना शहर में आपने ससुराल में रह रहे हैं. बलदेव तीन माह पहले 12 अगस्त को ईद के दिन अपनी बेटी का इलाज कराने भारत आए थे. उनकी बेटी थैलेसीमिया से पीड़ित है. बलदेव ने दो महीने पहले से ही वीजा के लिए आवेदन दे रखा है लेकिन फिलहाल सरकार की तरफ से उसपर कोई जवाब नहीं आया है.

बलदेव कुमार का कहना है कि वह भारत को छोड़ कर नहीं जाएंगे क्योंकि अब भारत ही उनका देश है. पाकिस्तान में उनकी जान को आतंकियों और आइएसआइ से खतरा है. वीजा खत्म होने के बारे में बलदेव ने कहा कि उन्होंने ऑनलाइन वीजा अप्लाई किया है. उन्हें विश्वाश है कि भारत सरकार वीजा जरूर देगी. 

यह भी पढ़ें: इमरान की पार्टी के पूर्व विधायक ने कहा- पाकिस्‍तान में हिंदू-सिख महफूज नहीं

पाकिस्तान के पूर्व सांसद ने कहा कि पाकिस्तान में उनपर 50 लाख का इनाम रखा गया है. यही नहीं गोपाल चावला ने तो यहां तक कह रखा है कि अगर मैं पाकिस्तान जाता हूं तो वह मुझे शूट कर देगा. ऐसे में भारत सरकार मुझे मरने के लिए पाकिस्तान नहीं भेजेगी. उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि जल्द ही भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह उन्हें शरण देंगे. 

बलदेव कुमार ने बताया कि उनकी बेटी थैलेसीमिया से पीड़ित है. जिस को हर 15 दिन में खून चढ़वाना पड़ता है. बलदेव कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि वे उन्हें भारत में राजनीतिक शरण दें और जल्द उनका वीजा जारी किया जाए. जानकारों की मानें तो बलदेव पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हैं और नागरिकता कानून में किए गए बदलाव के तहत वह वीजा पर फैसला आने तक बिना वीजा भी भारत में रह सकते हैं.