close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

क्रिकेट खेलते समय 18 साल के युवा क्रिकेटर की गर्दन पर लगी बॉल, मौत

जम्‍मू और कश्‍मीर के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने इस घटना पर दुख जातते हुए मृतक क्रिकेटर के परिजनों को 5 लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है.

क्रिकेट खेलते समय 18 साल के युवा क्रिकेटर की गर्दन पर लगी बॉल, मौत
मृतक क्रिकेटर जहांगीर बारामूला के गोशबाग पट्टन स्थित गवर्नमेंट हायर सेकेंडरी स्कूल में 11 वीं कक्षा का छात्र था.

श्रीनगर: जम्‍मू और कश्‍मीर में क्रिकेट खेल रहे एक युवक की गर्दन में गेंद लगने के चलते मौत हो गई है. मामला दक्षिण कश्‍मीर के अनंतनाग का है. मृतक क्रिकेटर की पहचान 18 वर्षीय जहांगीर अहमद वार के रूप में हुई है. वहीं, इस घटना पर दुख जताते हुए जम्‍मू और कश्‍मीर के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने मृतक क्रिकेटर के परिजनों को 5 लाख रुपए की मदद राशि देने की घोषणा की है. दूसरी तरफ, स्‍थानीय पुलिस ने इस घटना के बाबत मामला दर्ज कर अपनी तफ्तीश शुरू कर दी है. 

जम्‍मू और कश्‍मीर प्रशासन के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि अनंतनाग के नानिल क्षेत्र में यूथ सेरविसिस एंड स्पोर्ट्स द्वारा जिला टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है. जिसमें, गुरुवार को बडगाम और बारामूला के बीच क्रिकेट मैच चल रहा था. जहांगीर अहमद वार बारामूल जिले की क्रिकेट टीम में शामिल था. उन्‍होंने बताया कि दाएं हाथ के बल्‍लेबाज जहांगीर अहमद वार बैटिंग क्रीज पर थे. बैटिंग के दौरान, गेंद उछल कर उनके गर्दन पर लगी. गेंद लगते ही जहांगीर मौके पर बेहोश होकर गिर पड़े. 

मौके पर मौजूद लोगों ने तत्‍काल जहांगीर को समीप के अस्‍पताल में भर्ती कराया. जहां डॉक्‍टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया. जम्‍मू और कश्‍मीर प्रशासन के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, जहांगीर ने खेल के लिए ज़रूरी हेलमेट और सभी आवश्‍यक चीज़ों से लैस थे. बावजूद इसके, गेंद हैम्लेट के बीच से निकल कर गर्दन पर जा लगी. उन्‍होंने बताया कि अनंतनाग पुलिस ने इस घटना के बाबत मामला दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है. 

उल्‍लेखनीय है कि मृतक क्रिकेटर जहांगीर बारामूला के गोशबाग पट्टन स्थित गवर्नमेंट हायर सेकेंडरी स्कूल में 11 वीं कक्षा का छात्र था. वहीं, सेकट्री यूथ सेरविसिस एंड स्पोर्ट्स सरमद हफीज ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद बताया है. उन्‍होंने कहा है कि जहांगीर के परिवार को विभाग की तरफ़ से हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी.