close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस ने कहा- गेंद केजरीवाल के पाले में, बीजेपी को हराना है तो गठबंधन करें

राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा था, 'दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन का मतलब भाजपा का सूपड़ा साफ होना है. 

कांग्रेस ने कहा- गेंद केजरीवाल के पाले में, बीजेपी को हराना है तो गठबंधन करें
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) के साथ गठबंधन को लेकर बनी असमंजस की स्थिति के बीच कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि राहुल गांधी ने बड़ा दिल दिखाते हुए अपना रुख स्पष्ट कर दिया है और अब अरविंद केजरीवाल को लुकाछिपी बंद करनी चाहिए. गठबंधन के सवाल पर कांग्रेस के प्रवक्ता पवन खेड़ा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ राहुल जी ने ट्वीट करके सबकुछ स्पष्ट कर दिया है. अगर आप कांग्रेस को राष्ट्रीय विकल्प मानते हैं तो क्या हर जगह हम समर्पण करें? अरविंद केजरीवाल जो लुकाछिपी का खेल खेल रहे थे. मैं उम्मीद करता हूं कि उनकी लुकाछिपी बंद हो जाएगी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘आप (केजरीवाल) यूटर्न मत लीजिए क्योंकि आप इसके लिए जाने जाते हैं. आपके बारे में लोग बताते हैं कि आप किसी की बी टीम हैं.’’ खेड़ा ने कहा, ‘‘कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा दिल दिखाते हुए चीजों को स्पष्ट कर दिया है. अब गेंद केजरीवाल के पाले में है.’’ राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा था, 'दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन का मतलब भाजपा का सूपड़ा साफ होना है.

यह सुनिश्चित करने के लिए कांग्रेस आप को चार सीटें देने की इच्छुक है. परन्तु केजरीवाल जी ने एक और यूटर्न ले लिया है.' गांधी ने कहा, 'हमारे दरवाजे अभी भी खुले हुए हैं, लेकिन समय बीता जा रहा है." कांग्रेस अध्यक्ष के ट्वीट के जवाब में केजरीवाल ने कहा, ‘‘कौन सा यूटर्न ? अभी तो बातचीत चल रही थी.

आपका ट्वीट दिखाता है कि गठबंधन आपकी इच्छा नहीं बल्कि, मात्र दिखावा है. मुझे दुःख है कि आप बयानबाज़ी कर रहे हैं. आज देश को मोदी-शाह के ख़तरे से बचाना अहम है. दुर्भाग्य है कि आप उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में भी मोदी विरोधी वोट बाँट कर मोदी जी की मदद कर रहे हैं.’’ दरअसल, कांग्रेस सिर्फ दिल्ली में गठबंधन चाहती है तो आप दिल्ली के साथ हरियाणा और चंडीगढ़ में भी तालमेल पर जोर दे रही है.