close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ताज दौरे के बाद सीधे आगरा से स्वदेश रवाना हो सकते हैं ओबामा

राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यक्रम में फेरबदल होने की संभावना है और वह दिल्ली के बजाए आगरा से सीधे अपने देश के लिए प्रस्थान कर सकते हैं क्योंकि अधिकारियों ने ताज शहर में उनके विमान एयरफोर्स वन के लैंडिंग की संभावनाओं की जांच..पड़ताल की है।

ताज दौरे के बाद सीधे आगरा से स्वदेश रवाना हो सकते हैं ओबामा

नई दिल्ली : राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यक्रम में फेरबदल होने की संभावना है और वह दिल्ली के बजाए आगरा से सीधे अपने देश के लिए प्रस्थान कर सकते हैं क्योंकि अधिकारियों ने ताज शहर में उनके विमान एयरफोर्स वन के लैंडिंग की संभावनाओं की जांच..पड़ताल की है।

आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यहां कहा कि गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि बनने वाले ओबामा ताज महल देखने के लिए 27 जनवरी की सुबह एयरफोर्स वन से आगरा के लिए उड़ान भर सकते हैं और वहां से सीधे रवाना हो सकते हैं।

सूत्रों के मुताबिक एयरफोर्स वन आगरा के भारतीय वायुसेना के अड्डे पर लैंड कर सकता है।

सूत्रों ने कहा कि द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान मित्र देशों के लिए बड़े वायु अड्डा के रूप में काम करने वाले इस हवाई अड्डे पर बोइंग 747-200बी श्रृंखला के विमान की लैंडिंग के पक्ष में संभाव्यता रिपोर्ट आने के बाद इस पर चर्चा तेज है।

एयरफोर्स वन बोइंग 747- 200 बी विमान है जिसे अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने विशेष रूप से बनवाया है। पहले के कार्यक्रम के मुताबिक ओबामा मैरीन वन से आगरा जाने वाले थे जो अमेरिकी राष्ट्रपति का आधिकारिक हेलीकॉप्टर है और फिर वापसी के लिए वह दिल्ली लौटने वाले थे।

बहरहाल भारत और अमेरिका के अधिकारियों के बीच समझौता हुआ है कि ओबामा अपनी आधिकारिक कार ‘बीस्ट’ से गणतंत्र दिवस परेड देखने के लिए राजपथ पहुंचेंगे जो इस परंपरा से हटकर है कि अतिथि भारत के राष्ट्रपति के साथ इस स्थल तक पहुंचते हैं।

ओबामा की सरकारी कार राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के काफिले में शामिल होगी जब वह राजपथ पर पहुंचेंगे और सुरक्षा में राष्ट्रपति के सुरक्षाकर्मी प्रशिक्षित घोड़ों पर सवार होंगे। इससे पहले 2007 में गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन भी इस संबंध में अपवाद रहे थे। वह अपनी कार में राजपथ तक पहुंचे, जो तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के काफिले में शामिल थी।

सूत्रों ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति के काफिले में भारतीय चिकित्सकों की एक टीम भी शामिल रहेगी। ओबामा के दौरे से पहले सात बेल्जियन मेलिनोइस कुत्ते यहां पहुंच चुके हैं जो ओसामा बिन लादेन को मारने में नेवी सील्स की टीम का हिस्सा रहे थे।