Breaking News
  • Zee News की अपील: पैनिक ना हों लोग, राशन-सब्जियों की दुकानों पर न लगाएं भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग का रखें पूरा ख्याल
  • यूपी के 15 जिलों के कुछ इलाके 15 अप्रैल तक पूरी तरह रहेंगे सील
  • बीजेडी नेता पिनाकी मिश्रा का दावा- 'पीएम ने Lockdown बढ़ाने के संकेत दिए'

2+2 वार्ता से पहले छह क्षेत्रों में कार्य योजना के मसौदे पर भारत-अमेरिका ने की चर्चा

भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व गृह मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव रजनी शेखरी सिब्बल जबकि अमेरिका की ओर से गृह सुरक्षा विभाग में उपमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया.

2+2 वार्ता से पहले छह क्षेत्रों में कार्य योजना के मसौदे पर भारत-अमेरिका ने की चर्चा
फाइल फोटो

नई दिल्लीः भारत और अमेरिका के बीच पहली टू प्लस टू वार्ता से पहले दोनों देशों के गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने खुफिया सूचना साझा करने, आतंकवाद के वित्त पोषण और साइबर सुरक्षा में आतंकवाद रोधी सहयोग समेत छह क्षेत्रों में एक योजना के मसौदे पर काम किया है. इससे जुड़े एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि हाल में आयोजित हुई भारत-अमेरिका गृह सुरक्षा वार्ता के दौरान वरिष्ठ अधिकारियों ने छह क्षेत्रों में गतिविधियों से संबंधित कार्य योजना के मसौदे पर चर्चा की.

भारत अल्पसंख्यकों को देता है सबसे ज्यादा सुविधाएं: अमेरिकी फाउंडेशन की रिपोर्ट

नकदी की अवैध तस्करी, वित्तीय जालसाजी पर चर्चा
भारत-अमेरिका गृह सुरक्षा वार्ता के तहत आने वाले छह क्षेत्र हैं : 1) अवैध वित्त पोषण, नकदी की अवैध तस्करी, वित्तीय जालसाजी, 2) साइबर सूचना, 3) मेगासिटी पुलिसिंग और संघीय राज्य एवं स्थानीय एजेंसियों के बीच सूचना को साझा करना, 4) वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला, परिवहन, बंदरगाह, सीमा और समुद्री सुरक्षा, 5) क्षमता निर्माण और 6) तकनीकी आधुनिकीकरण. अधिकारी ने बताया कि बैठक के दौरान आतंकवाद रोधी पहलों और खुफिया सूचनाओं को साझा करने से संबंधित मामलों में सहयोग पर जोर दिया गया. 

आतंकवाद से नहीं लड़ पाया पाकिस्‍तान तो अमेरिका ने उसे दे दिया ये बड़ा झटका

सुरक्षा सहयोग बढ़ाने के लिए बातचीत
एक अन्य अधिकारी ने बताया कि दोनों पक्षों ने भारत और अमेरिका के बीच सुरक्षा सहयोग बढ़ाने के लिए बातचीत कायम रखने पर भी सहमति जताई. भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व गृह मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव रजनी शेखरी सिब्बल जबकि अमेरिका की ओर से गृह सुरक्षा विभाग में उपमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ और रक्षा मंत्री जिम मैटिस अहम कूटनीतिक और सुरक्षा मुद्दों पर भारत के साथ भागीदारी बढ़ाने पर चर्चा करने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तथा रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात करेंगे.