आप सांसद भगवंत मान ने शायराना अंदाज में गिनाईं सरकार की खामियां

मोदी सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर बोलते हुए आम आदमी पार्टी सांसद भगवंत मान ने कहा बीजेपी फेडरल स्ट्रकचर को खत्म करना चाहती है, दिल्ली के एलजी पर वायसराय की आत्मा हावी है

आप सांसद भगवंत मान ने शायराना अंदाज में गिनाईं सरकार की खामियां
अपने उद्बोधन के दौरान भगवंत सिंह मान ने एक कविता से मोदी सरकार पर तंज भी कसा

नई दिल्ली: लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव लाया गया. इस प्रस्ताव पर बोलते हुए आम आदमी पार्टी सांसद भगवंत मान ने कहा बीजेपी फेडरल स्ट्रकचर को खत्म करना चाहती है, दिल्ली के एलजी पर वायसराय की आत्मा हावी है. अपने उद्बोधन के दौरान भगवंत सिंह मान ने एक कविता से मोदी सरकार पर तंज भी कसा.

केजरीवाल का भी रखा पक्ष
भगवंत सिंह मान ने अपने उद्बोधन के दौरान अपनी पार्टी और केजरीवाल के बारे में बात करते हुए कहा कि दिल्ली का चुना हुआ मुख्यमंत्री नौ दिन तक LG से मिलने के लिए इंतजार करता रहा, लेकिन नौ मिनट भी नहीं दिए गए. यह कैसा लोकतंत्र है. इसके साथ ही उन्होंने एक सवाल पूछा कि क्या दिल्ली को LG के डंडे से चलाओगे.

भगवंत मान ने पढ़ी ये कविता
आप सांसद ने सदन में एक कविता भी पढ़ी. कविता की पंक्तियां कुछ यूं थीं.
बात चली थी भारत को डिजिटल इंडिया बनाने से
बात चली थी भारत को डिजिटल इंडिया बनाने से
बात चली थी एक के बदले 10 सर काट कर लाने से
बात चली थी बुलेट ट्रेन चलाने से
बात चली थी 56 इंच का सीना दिखाने से
बात चली थी न खाने से न खिलाने से
कहां गई वो 100 दिन में काले धन की बात
पिछले 4 साल से देश की जनता सुन रही है रेडियो पर सिर्फ मन की बात
चौकीदार देख रहा है और लोग बैंक को चूना लगा कर भगौड़े हो रहे हैं
और लाखों पढ़े लिखे नौजवानों के सपने आंखों के सामने पकौड़े हो रहे हैं
अब तो साहब के ऑफिस से मेन्यू बन कर आता है कि हमने क्या पहनना है और हम क्या खाने वाले हैं
मोदी जी अगले 6-7 महीने में आप जाने वाले हैं, कृपया जाते-जाते ही बता दीजिए अच्छे दिन कब आने वाले हैं.