Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी ने बीजेपी नेताओं को दिया फ्लाइंग किस, कांग्रेस नेता की झलक पाने के लिए थे बेताब
topStories1hindi1473012

Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी ने बीजेपी नेताओं को दिया फ्लाइंग किस, कांग्रेस नेता की झलक पाने के लिए थे बेताब

Rahul Gandhi की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में है. राहुल गांधी की अगुवाई वाली इस यात्रा ने मंगलवार सुबह झालावाड़ शहर को पार किया. यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की झालावाड़ इकाई के लोगों को फ्लाइंग किस किया.  

Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी ने बीजेपी नेताओं को दिया फ्लाइंग किस, कांग्रेस नेता की झलक पाने के लिए थे बेताब

Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में है. राहुल गांधी की अगुवाई वाली इस यात्रा ने मंगलवार सुबह झालावाड़ शहर को पार किया. यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की झालावाड़ इकाई के उन लोगों को 'फ्लाइंग किस' दिया जो उनकी यात्रा की झलक पाने के लिए पार्टी कार्यालय की छत पर इंतजार कर रहे थे. 

भारत जोड़ो यात्रा मंगलवार सुबह खेल संकुल से आगे बढ़ी जहां वह रात्रि विश्राम के लिए रुकी थी. इसके बाद यात्रा झालावाड़ शहर को पार कर गई. करीब 12 किलोमीटर पैदल चलने के बाद यात्रा सुबह 10 बजे देवरीघाट पहुंची. भोजनावकाश के बाद दोपहर 3.30 बजे यात्रा सुकेत से दोबारा शुरू हुई. रात्रि विश्राम झालावाड़ के मोरू कलां खेल मैदान में होगा. 

राहुल गांधी के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, कई मंत्री, विधायक और कई अन्य नेता एवं कार्यकर्ता शामिल हैं. यात्रा को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.  इस बीच एक अन्य घटनाक्रम में, कांग्रेस पार्टी ने अजय माकन द्वारा प्रदेश प्रभारी पद से इस्तीफा देने के बाद पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुखजिंदर सिंह रंधावा को इस पद पर नियुक्त किया है. 

बीजेपी और आरएसएस पर साधा निशाना

इससे पहले राहुल गांधी ने सोमवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने सवाल किया कि वे (आरएसएस और भाजपा) ‘जय सियाराम’ क्यों नहीं बोलते और उन्होंने इस नारे से सीता मां को क्यों निकाल दिया है. राहुल गांधी ने कहा, आरएसएस के लोगों को ‘जय सियाराम’ बोलना पड़ेगा और वे लोग सीता मां का अपमान नहीं कर सकते. उन्होंने कहा, आरएसएस के लोगों को भगवान राम और उनके जीवन जीने के तरीके को समझना होगा.

उन्होंने कहा, पहले एक नारा हुआ करता था, जो पूरे देश में लगाया जाता था. वह जय सियाराम का नारा था. उन्होंने कहा, भाइयों-बहनों...सीता के बिना क्या राम हो सकते हैं?... सवाल ही नहीं उठता. सीता के बिना राम नहीं हो सकते, राम के बिना सीता नहीं हो सकतीं.  राहुल गांधी ने कहा, ...अपने नारे से बीजेपी और आरएसएस के लोगों ने सीता मां को क्यों निकाल दिया है. वे कभी जय सियाराम क्यों नहीं बोलते?

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

 

Trending news