CoWIN पर बड़ा बदलाव, अब हिंदी समेत 14 भाषाओं में मिलेगी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, कोरोना टेस्ट बढ़ाने के लिए आईएनएसएसीओजी (INSACOG) नेटवर्क में 17 नई प्रयोगशालाओं को जोड़ा जाएगा, साध ही CoWIN Portal पर हुए बदलाव की जानकारी दी.

CoWIN पर बड़ा बदलाव, अब हिंदी समेत 14 भाषाओं में मिलेगी जानकारी
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: कोविन पोर्टल (CoWIN) पर अगले सप्ताह से हिंदी और 14 क्षेत्रीय भाषाओं में जानकारी उपलब्ध रहेगी, साथ ही Covid-19 Variants की निगरानी के लिए 17 और प्रयोशालाओं को जोड़ा जाएगा. मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की अध्यक्षता में सोमवार को Covid-19 पर हुई उच्च स्तरीय मंत्रिमंडल समूह (GOM) की 26वीं बैठक के दौरान इन निर्णयों की घोषणा की गई. 

टेस्ट बढ़ाने के लिए हुआ ये निर्णय

मंत्रालय ने कहा कि हर्षवर्धन ने मंत्रिमंडल सहयोगियों को बताया कि नमूनों की जांच को बढ़ाने के लिए आईएनएसएसीओजी (INSACOG) नेटवर्क में 17 नई प्रयोगशालाओं को जोड़ा जाएगा. ‘द इंडियन SARS-COV 2 कॉनसोर्टियम ऑन जीनोमिक्स (आईएनएसएसीओजी)’ देशभर में फैली दस राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं का समूह है, जिसकी स्थापना स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने बीते वर्ष 25 दिसंबर को की थी. 

कोविड-रोधी दवा 2-डीजी लॉन्च
इस समिति का काम कोरोना वायरस (Coronavirus) की जीनोम श्रृंखला तैयार करना और जीनोम के स्वरूपों तथा महामारी के बीच संबंध तलाशना है. हर्षवर्धन ने कहा, 'भारत में 26 दिन बाद पहली बार कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों की संख्या गिरकर तीन लाख से नीचे चली गई है. साथ ही, पिछले 24 घंटे में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 1,01,461 की गिरावट दर्ज की गई है.' उन्होंने देश की पहली कोविड-रोधी दवा 2-डीजी जारी करने के लिए रक्षा वैज्ञानिकों के प्रयासों और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व की सराहना की.

यह भी पढ़ें: गुजरात पहुंचा चक्रवात ताउ-ते, अगले दो घंटे में हो सकती ही भीषण तबाही

ऑक्सीजन की निर्भरता कम होगी
स्वास्थ्य मंत्री ने सदस्यों को सूचित किया कि यह दवा देश में महामारी से निपटने में बेहद अहम साबित हो सकती है क्योंकि इस दवा के उपयोग से Covid-19 मरीजों के लिए ऑक्सीजन सहायता की निर्भरता कम हो सकती है. बयान के मुताबिक, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि महामारी से निपटने के लिए केंद्र राज्यों की लगातार सहायता कर रहा है. राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 4.22 करोड़ से अधिक एन-95 मास्क, 1.76 करोड. पीपीई किट, 52.64 लाख रेमडेसिविर टीके और 45,066 वेंटिलेटर दिए जा चुके हैं.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.