close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: छठ महापर्व के दौरान अलग-अलग हादसों में 11 लोगों की मौत, कई घायल

बिहार में कई जगहों पर अलग-अलग हादसों में कुल 11 लोगों की मौत हो गई. जबकि कई लोग घायल हो गए.

बिहार: छठ महापर्व के दौरान अलग-अलग हादसों में 11 लोगों की मौत, कई घायल
बिहार में अलग-अलग जगहों पर हुए हादसे में कई लोगों की मौत हो गई है.

बिहार: एक तरफ बिहार-झारखंड सहित विभिन्न राज्यों में लोक आस्था और विश्वास के महापर्व छठ (Chhath) को लेकर धूम है. तो वहीं, दूसरे तरफ बिहार में कई जगहों पर 11 लोगों की हादसे में मौत के कारण मातम छा गया.

समस्तीपुर में छठ पूजा के दौरान एक बड़ा हादसा हो गया. इस हादसे में दो महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई. जबकि दो अन्य गंभीर से घायल हो गए हैं. घायलों का इलाज अभी अस्पताल में चल रहा है.

वहीं, हसनपुर में छठ पूजा के दौरान भी एक बड़ा हादसा हो गया. यहां मंदिर की दीवार गिरने से दर्जनों श्रद्धालु घायल हो गए.

जानकारी के मुताबिक, अभी कई लोगों के मलबे में दबे होने की संभावना. घटना हसनपुर थाना क्षेत्र के बड़गांव गांव स्थित पुरानी काली मंदिर की दीवार टूटने के कारण हुआ.

खगड़िया के बेलदौड़ थाना क्षेत्र के रूक्मिनिया गांव में सुबह में अर्घ्य देने के दोरान एक 8 वर्षीय बच्चे की डूबने से मोत हो गई है.

स्थानीय लोगों के प्रयास से शव को निकाला गया है.शव मिलते ही परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है. 

वहीं, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए खगड़िया सदर अस्पताल भेज दिया है.  मृतक बच्चे का नाम ओम प्रकाश बताया जा रहा है.

जानकारी के मुताबिक लड़का पानी में उतरकर अर्घ्य दे रहा था कि तभी उसका पेर फिसल गया और वो गहरे पानी में चला गया. हालांकि, ग्रामीण के द्वारा बच्चे को पानी से बाहर निकाला गया लेकिन तब तक बच्चे की मोत हो गई थी

वहीं, खगडिया में एक दूसरे हादसे में छठ पूजा के दोरान एक लड़की पानी में डूबी गई. स्थानीय लोगों के द्वारा शव को निकालने का प्रयास किया जा रहा है. साथ ही एसडीआरएफ टीम को भी बुलाया गया. घटना मोरकाही थाना क्षेत्र के रसोका गांव के बागमती नदी के रसोका घाट की है.

इसके अलावा बाढ़ के बख्तियारपुर में वार्ड संख्या 9 निवासी 25 वर्षीय राहुल कुमार की गंगा नदी में डूबने से मौत हो गई. इसके बाद परिजनों और स्थानीय ग्रामीणों के प्रयास से राहुल को गंगा नदी से बाहर निकाला गया.

वहीं, घटना की सूचना मिलने पर प्रशासन भी मौके पर पहुंच गया. एक अन्य मामले में औरंगाबाद की सुर्यनगरी देव में छठ के मौके पर अर्घ्य के बाद बेकाबू हुई भीड़ से दबकर दो मासूम बच्चों की मौत हो गई.

मृतकों में पटना के बिहटा का एक 6 वर्षीय बालक तथा दुसरा भोजपुर के सहार की डेढ़ साल की बच्ची शामिल है. जबकि कई लोग हादसे में घायल भी हो गए. 

हादसा देव प्रखंड मुख्यालय स्थित सुर्यकुंड के पास की है. घटना के बाद पूरे मेला क्षेत्र में अफरातफरी मच गई और लोग इधर-उधर भागने लगे. इसके बाद में प्रशासन ने माहौल को शांत कराया. 

वहीं, सहरसा छठ घाट पर स्नान करने के दौरान डूबने से एक 40 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई. तेज बहाव की चपेट में आने से मृतक का शव अब तक नही हुआ बरामद है. 

इसके अलावा सहरसा में ही छठ घाट पर पटाखा फोड़ने के दौरान 12 साल का बालक गंभीर रूप से झुलस गया. घायल बालक को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बता दें कि घटना नौहट्टा प्रखंड के धरहरा गांव की है.