close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार में बाढ़ का कहर जारी, सैलाब से अब तक 11 जिलों में 123 लोगों की गई जान

आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, बिहार के कुल 12 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं, जिसमें अररिया, किशनगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, सुपौल, मधुबनी, दरभंगा, कटिहार, मोतिहारी, बेतिया और मुजफ्फरपुर शामिल है.

बिहार में बाढ़ का कहर जारी, सैलाब से अब तक 11 जिलों में 123 लोगों की गई जान
सीतामढ़ी का बाढ़ प्रभावित इलाका. (तस्वीर- ANI)

पटना : बिहार के 12 जिलों में बाढ़ का कहर लगातार जारी है. लगभग 82 लाख की आबादी बाढ़ से प्रभावित है. बिहार आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबुक, इस आपदा में अब तक कुल 123 लोगों की मौत हो चुकी है.

आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, बिहार के कुल 12 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं, जिसमें अररिया, किशनगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, सुपौल, मधुबनी, दरभंगा, कटिहार, मोतिहारी, बेतिया और मुजफ्फरपुर शामिल है.

बाढ़ में मृतकों की संख्या 123 है. ये मौतें 11 जिलों में हुई हैं. 12 जिले बाढ़ प्रभावित हैं. 105 प्रखंडों के 1240 पंचायतों के लोग बाढ़ से पीड़ित है. इनकी आबादी सगभग 81.57 लाख है. राहत और बचाव के लिए 834 सामुदायिक रसोई घर चल रहे हैं. एनडीआरएफ-एसडीआरएफ की 26 टीमें राहत और बचाव का काम कर रही हैं. 796 कर्मी राहत बचाव में लगे हैं. बाढ़ प्रभावित इलाकों में 125 मोटरबोट चलाए जा रहे हैं.


सीतामढ़ी में राहत कैंप का जायजा लेते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (तस्वीर- ANI)

मिथिला क्षेत्र में भी बाढ़ का कहर जारी है. इसको देखते हुए राज्य सरकार ने राहत पैकेट पहुंचाने के लिए वायुसेना की मदद ली है. वैसे बाढ़ प्रभावित क्षेत्र जहां पहुंचना दुर्गम है वहां भारतीय वायुसेना की मदद ली जा रही है. दरभंगा एयरपोर्ट से दो-दो हेलीकॉप्टर को इस काम में लगाया गया है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जल संसाधन मंत्री संजय झा लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और लगातार मुस्तैदी से राहत और बचाव कार्य चलाने का दावा कर रहे हैं. बाढ़ पीड़ितों को 6000 रुपए राहत राशि डायरेक्ट उनके खाते में पहुंचायी जा रही है.