close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड में 13 पार्टियों ने मिलकर बनाया तीसरा मोर्चा, 2019 विधानसभा चुनाव हुआ दिलचस्प

महागठबंधन में एकजुटता नहीं देखकर कई लेफ्ट पार्टियां क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर तीसरा मोर्चा बना लिया है.

झारखंड में 13 पार्टियों ने मिलकर बनाया तीसरा मोर्चा, 2019 विधानसभा चुनाव हुआ दिलचस्प
कई लेफ्ट पार्टियां क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर तीसरा मोर्चा बना लिया है.

रांची: झारखंड में विधानसभा चुनाव नजदीक है. वैसे में महागठबंधन में एकजुटता नहीं देखकर कई लेफ्ट पार्टियां क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर तीसरा मोर्चा बना लिया है. आप इसे महागठबंधन पार्ट-2 भी कह सकते हैं. 

लोकसभा चुनाव में महागठबंधन का स्वरूप तैयार नहीं होने पर गठबंधन को शिकस्त का सामना करना पड़ा और 2 सीट ही लेकर संतोष करना पड़ा. अब झारखंड में विधानसभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए क्षेत्रीय पार्टी एकजुटता का परिचय देते हुए एक नया महागठबंधन बनाया और इसका नाम झारखंड पीपुल्स पार्टी एलायंस रखा है.

 

झारखंड पीपुल अलायंस झारखंड जनमत ने महागठबंधन कर तृणमूल कांग्रेस से कामेश्वर बैठा, झारखंड पीपुल्स पार्टी के पूर्व सांसद सुरेश बेसरा, राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक के पूर्व विधायक गौतम सागर राणा, राष्ट्रीय सिंगल पार्टी से पूर्व विधायक पुष्पा टेटे, सीपीआई माले से बशीर अहमद, झारखंड आंदोलन कार्यकारी मंच से सुखदेव हेंब्रम सहित 6 संगठनों के अध्यक्ष ने यह एलायन्स किया है. कुल तेरह पार्टियों ने मिलकर इस महागठबंधन को बनाया है.

बहरहाल, झारखंड में विधानसभा चुनाव से पहले तीसरा मोर्चा जरूर तैयार हो गया है लेकिन देखना दिलचस्प होगा कि एनडीए, महागठबंधन के बाद लोग तीसरे मोर्चे को कितना पसंद करते हैं और समर्थन देते हैं.