झारखंड में धर्मांतरण का नया मामला, दुमका में 16 गिरफ्तार

झारखंड में धर्मांतरण का मुद्दा एक बार फिर प्रकाश में आया है. इस बार झारखंड से 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.   

झारखंड में धर्मांतरण का नया मामला, दुमका में 16 गिरफ्तार
धर्मांतरण के मामले में दुमका के फूल पहाड़ी से 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

दुमका: झारखंड के दुमका जिले के फूलपहाड़ी गांव में जबरन धर्मांतरण कराने के प्रयास में 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. ये सभी आरोपी फिलहाल जेल मे बंद हैं. गिरफ्तार लोगों में सात महिलाएं भी शामिल हैं. 

शिकायकर्ता रमेश मुर्मू का आरोप है कि सभी गिरफ्तार आरोपी गांव में घुसकर पहले तो संथाल आदिवासियों को जबरन ईसाई धर्म कबूल करवाया फिर आदिवासियों के पूजा स्थल जाहेरथान जाने से रोक रहे थे.

सभी आरोपियों के खिलाफ शिकारीपाड़ा थाना कांड संख्या 52/18,  धारा 295(A)/34 और झारखंड धर्म स्वतंत्र अधिनियम की धारा 4 के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कर जेल भेज दिया गया. ग्रामीणों ने रातभर आरोपियों को गांव में ही पकड़कर रखा और दूसरे दिन पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया. 

ये सभी धर्मांतरण के लिए माइक पर धर्म का प्रचार कर धर्मांतरण के लिए लोगों पर दबाब रहे थे. सभी धर्म प्रचारक मिनी बस से गांव पहुंचे और माइक लगाकर ईसाई धर्म का प्रचार कर रहे थे. वहां के लोगों के बयान के अनुसार उस गांव में कोई भी ईसाई नहीं है और जब गांव वालों ने ऐसा करने से मना किया तो भी वो नहीं रुके. इसके बाद गांव वालों ने उन्हें बंधक बना लिया और पुलिस के हवाले कर दिया.