बिहारः 2 लोकसेवक रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

बिहार राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो (विजिलेंस) की अलग-अलग टीमों ने मंगलवार को राज्य के दो अलग-अलग क्षेत्रों से एक पुलिस अवर निरीक्षक (एएसआई) सहित दो लोकसेवकों को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. 

बिहारः 2 लोकसेवक रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार
विजिलेंस ने दो लोकसेवक को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया. (फोटोः प्रतीकात्मक)

पटनाः बिहार राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो (विजिलेंस) की अलग-अलग टीमों ने मंगलवार को राज्य के दो अलग-अलग क्षेत्रों से एक पुलिस अवर निरीक्षक (एएसआई) सहित दो लोकसेवकों को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. ब्यूरो के एक अधिकारी ने बताया कि पटना के धनरुआ थाना में तैनात एएसआई नथुनी राम को एक व्यक्ति से बतौर रिश्वत 20,000 रुपये लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया. 

उन्होंने बताया कि धनरुआ थाना के नदपुरा गांव निवासी रमेश भगत ने ब्यूरो कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई थी कि नथुनी राम एक मामले में मदद करने के एवज में उनसे रिश्वत की मांग कर रहे हैं. 

नथुनी राम के खिलाफ आरोप सही पाए जाने के बाद ब्यूरो ने एक टीम का गठन किया. टीम ने मंगलवार को रमेश से 20,000 रुपये रिश्वत लेते एएसआई को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के क्रम में आरोपी ने ब्यूरो की टीम पर चाकू से हमला भी किया, जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया. उसे इलाज के लिए पटना स्थित इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. 

इधर, जहानाबाद जिले के रतनी फरीदपुर बाल विकास परियोजना पदाधिकारी कार्यालय में पर्यवेक्षिका के पद पर कार्यरत रूबी कुमारी को भी 50 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया. 

जहानाबाद जिले के करनीबिगहा गांव निवासी टुनटुन कुमार ने ब्यूरो कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई थी कि रूबी कुमारी द्वारा आंगनबाड़ी सेविका के पद पर नियुक्त करने के एवज में तीन लाख रुपये रिश्वत की मांग कर रही है. 

मामले के सत्यापन के बाद पुलिस उपाधीक्षक अरुण कुमार सिंह के नेतृत्व में ब्यूरो की एक टीम ने रूबी कुमारी को जहानाबाद रेलवे स्टेशन के समीप टुनटुन से 50,000 रुपये बतौर रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. 

(इनपुटः आईएएनएस)