चलती ट्रेन में 90 लाख की डकैती करने वाले 2 बदमाश गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 9 मई 2019 में सदर बाजार रेलवे स्टेशन में चलती हुई ट्रेन में 90 लाख के गहने की डकैती को सुलझाते हुए बिहार के गया से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है. सुरेंद्र पासवान और रुनु कुमार नाम के दोनों आरोपियों पर पुलिस ने 20000 रुपये का इनाम भी रखा हुआ था. 

चलती ट्रेन में 90 लाख की डकैती करने वाले 2 बदमाश गिरफ्तार

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 9 मई 2019 में सदर बाजार रेलवे स्टेशन में चलती हुई ट्रेन में 90 लाख के गहने की डकैती को सुलझाते हुए बिहार के गया से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है. सुरेंद्र पासवान और रुनु कुमार नाम के दोनों आरोपियों पर पुलिस ने 20000 रुपये का इनाम भी रखा हुआ था. 

इस मामले में पुलिस ने पहले ही दिनेश ओर संतोष पासवान को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था. दरअसल पुलिस की पूछताछ में आरोपी सुरेंद्र पासवान ने खुलासा किया है कि उसका एक रिश्तेदार यानी संतोष दिल्ली के चांदनी चौक में कुचा महाजनी में एक ज्वेलरी की दुकान पर काम करता था.  अप्रैल 2019 के अंतिम सप्ताह में, संतोष पासवान ने उन्हें बताया कि एक बिहार के रहने वाले लाल बाबू दिल्ली के चांदनी चौक से भारी मात्रा में आभूषण एकत्र करेंगे और सिवान, बिहार में एक ज्वैलर को देने जाएंगे.

सुरेंद्र ने कैरियर से गहने लूटने की योजना बनाई और योजना को अंजाम देने के लिए सुनील, पप्पू, दिनेश, मिथुन, साहिल और रुन्नू कुमार नामक अपने बाकी साथियों को मिलाया, नो मई 2019 को संतोष पासवान को पता चला कि लाल बाबू यादव ने दिल्ली के चांदनी चौक से ज्वैलरी इकट्ठा कर ली है, उसने इस सूचना को सुरेंदर को पहुंचाया, जिसके बाद उसने अपने साथियों साथ मिलकर लाल बाबू का पीछा करते हुए सदर बाज़ार रेलवे स्टेशन से लोकल ट्रेन में चढ़े और चलती ट्रेन में उनसे गहने लूट लिए और फिर ट्रेन सब्ज़ी मंडी रेलवे स्टेशन के पास पहुंचते ही भाग गए.

मामले की शिकायत दिल्ली पुलिस की रेलवे पुलिस से की गई, चलती ट्रेन में हुई इस लूट ने यात्रियों की सुरक्षा पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया जिसके बाद इस केस में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को भी लगाया गया, स्पेशल सेल ने अब बीस हज़ार के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि इस मामले में दिनेश और संतोष पासवान को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

ये भी देखें-: