झारखंड: 27 पुलिसकर्मी आए कोरोना की जद में, DGP बोले- काम पर नहीं होगा इसका असर

डीजीपी ने कहा कि, ड्यूटी के दौरान कई ऐसे कोरोना संक्रमित पुलिस के आसपास रहे जो नॉन सिंप्टोमेटिक थे, यानी उनमें कोई भी लक्षण नहीं था. इस वजह से कई पुलिसकर्मी संक्रमित हो गए हैं.

झारखंड: 27 पुलिसकर्मी आए कोरोना की जद में, DGP बोले- काम पर नहीं होगा इसका असर
झारखंड: 27 पुलिसकर्मी आए कोरोना की जद में, DGP बोले- काम पर नहीं होगा इसका असर.

रांची: कोरोना वायरस (Coronavirus) के सामने ढाल की तरह खड़े रहने वाले पुलिसकर्मी लगातार कोरोना के जद में आते जा रहे है. सबसे पहले शहर के 6 थानों के 11 पुलिसकर्मी के कोरोना संक्रमित होने ने प्रसाशन की नींद उड़ा दी थी, जिसके बाद आंकड़े बढ़ते गए और एक-एक कर शुक्रवार को रांची जिले में, 27 पुलिसकर्मी कोरोना की जद में आ चुके हैं. जो पुलिस के लिए चिंता के साथ-साथ चुनौती का भी विषय है.

इस मामले पर राज्य के डीजीपी एमवी राव ने कहा कि, पुलिसकर्मी वॉरियर्स की तरह 24 घंटे कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं. डीजीपी एमवी राव ने कहा कि, ड्यूटी के दौरान कई ऐसे कोरोना संक्रमित पुलिस के आसपास रहे जो नॉन सिंप्टोमेटिक थे, 
यानी उनमें कोई भी लक्षण नहीं था.

इस वजह से कई पुलिसकर्मी संक्रमित हो गए हैं. लेकिन हमारी कोशिश है कि, पुलिसकर्मियों के संक्रमित होने के बावजूद काम में इसका असर ना पड़े. साथ ही साथ उनकी सेहत का भी ख्याल रखा जा रहा 
है.

वहीं, आईजी सुमन गुप्ता ने कहा कि, हर एहतियात बरतने के बावजूद हमारे पुलिसकर्मी संक्रमित हुए हैं. लेकिन पुलिसकर्मी कभी भी अपने कर्तव्य से पीछे नहीं हटेंगे. क्योंकि सामाजिक सुरक्षा उनकी जिम्मेदारी होती है. मामले पर रांची एसएसपी सुरेंद्र  कुमार झा ने बताया कि, अब तक जिले के 27 पुलिसकर्मी कोरोना वायरस के जद में आ चुके हैं और उनके कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर आगे की प्रक्रिया चल रही है.

उन्होंने कहा कि, इसी को लेकर थानों में आम लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है और सैनिटाइजेशन का काम भी चल रहा है. लेकिन लोगों को थाने बंद होने की वजह से कोई दिक्कत ना हो, इसके लिए ऑनलाइन एफआईआर (FIR) की व्यवस्था को दुरुस्त कर ली गई है, ताकि समस्या का समाधान भी समय के अनुकूल हो सके.