झारखंड के पाकुड़ जिले में घुसे 30 हथियार बंद नक्सली, पड़ोसी राज्य से की इंट्री

एसपी ने कहा कि, पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा गांव के पास, लॉकडाउन के दौरान 30 की संख्या में हथियार बंद, कथित नक्सलियों के पड़ोसी राज्यों से प्रवेश की सूचना मिली है.

झारखंड के पाकुड़ जिले में घुसे 30 हथियार बंद नक्सली, पड़ोसी राज्य से की इंट्री
झारखंड के पाकुड़ जिले में घुसे 30 हथियार बंद नक्सली, पड़ोसी राज्य से की इंट्री.

दुमका: झारखंड के बंगाल की सीमा से लगे नक्सल प्रभावित पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा गांव के पास, लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान 30 की संख्या में हथियार बंद, कथित नक्सलियों के पड़ोसी राज्यों से प्रवेश की सूचना मिली है. यह जानकारी देते हुए दुमका के पुलिस अधीक्षक अंबर लाकड़ा ने बताया कि, अमड़ापाड़ा में सुरक्षा बलों के पिकेट से यह सूचना मिली है.

वहीं, झारखंड के चतरा में भी पुलिस ने टीएसपीसी (TSPC) नक्सलियों के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई की है. गुप्त सूचना के आधार पर चलाए गए विशेष छापेमारी अभियान के दौरान, सबजोनल कमांडर ननकू गंझू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

ननकू गंझू को लावालौंग थाना क्षेत्र के होसिल गांव से सिमरिया थाना पुलिस ने किया गिरफ्तार है. इस दौरान पुलिस ने, एके-47 व 130 राउंड जिंदा कारतूस भी बरामद किया है. जानकारी के मुताबिक, सिमरिया एसडीपीओ व थाना प्रभारी की संयुक्त टीम ने कार्रवाई की है.

बताया जा रहा है कि, दुर्दांत परमजीत दस्ते में शामिल गिरफ्तार नक्सली तीन दिन पहले पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में शामिल था. वहीं, 9 मई को भी झारखंड के पलामू जिले में नक्सलियों ने 13 वाहनों को आग लगा दी थी. पुलिस के अनुसार, 15 से 16 की संख्या में नक्सलियों ने पलामू जिले के पिपरा थाना के अंतर्गत स्थित चपरवार गांव में एक पत्थर क्रशर कंपनी पर धावा बोला. उन्होंने इलाके में खड़ी 13 गाड़ियों में आग लगा दी.

कंपनी द्वारा वसूली देने से इनकार को आगजनी के पीछे का कारण बताया जाता है. राज्य के 24 जिलों में से 18 जिलों में नक्सली काफी सक्रिय हैं.
(इनपुट-भाषा)