झारखंड: कोडरमा में 35 दुकानदारों ने रद्द किया लाइसेंस, शराब बिक्री कोटा बढ़ाने से नाराज

शराब बिक्री का कोटा बढ़ाए जाने के सरकार के फैसले को लेकर कोडरमा में शराब दुकान का संचालन कर रहे 35 दुकानदारों ने एक साथ अपना लाइसेंस सरेंडर करने का निर्णय लिया है.

झारखंड: कोडरमा में 35 दुकानदारों ने रद्द किया लाइसेंस, शराब बिक्री कोटा बढ़ाने से नाराज
35 दुकानदारों ने एक साथ अपना लाइसेंस सरेंडर करने का निर्णय लिया है.

कोडरमा: बढ़ते राजस्व और शराब बिक्री का कोटा बढ़ाए जाने के सरकार के फैसले को लेकर झारखंड के कोडरमा में शराब दुकान का संचालन कर रहे 35 दुकानदारों ने एक साथ अपना लाइसेंस सरेंडर करने का निर्णय लिया है.

इसे लेकर शराब दुकान संचालकों ने एक बैठक की और और कहा कि शराब दुकान के संचालन के लिए सरकार के द्वारा इस वित्तीय वर्ष में जो राजस्व वसूली जा रही है वह भी ज्यादा है और अगले वित्तीय वर्ष में भी सरकार इस राजस्व को 20 से 25% बढ़ाने जा रही है जिससे शराब दुकानों का संचालन करना मुश्किल हो जाएगा.

फिलहाल कोडरमा जिले में 51 सरकारी शराब की दुकानें संचालित हो रही है. 3 सालों के लिए इन संचालकों को लाइसेंस निर्गत किया गया था लेकिन 10 महीने दुकान संचालन के बाद भी शराब दुकानदारों की हालत पतली हो गई है. दुकान संचालकों ने बताया कि एक तरफ बड़े पैमाने पर सरकार राजस्व भी ले रही है और बिक्री के लिए जो कोटा निर्धारित किया गया है वह भी काफी ज्यादा है.

उन्होंने कहा कि इसके अनुपात में बिक्री काफी कम हो रही है. ऐसे में शराब दुकान का संचालन कर पाना मुश्किल होगा. दुकान संचालकों ने कहा है कि व्यव्साय काफी नुकसान में चल रहा है और दूसरे प्रदेशों की शराब कम कीमत पर अवैध कारोबार करने वाले बेच रहे है जिससे उन्हें घाटा हो रहा है.