close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : बाढ़ के बाद आकाशीय बिजली का कहर, अब तक 39 लोगों की मौत

जबरदस्त मूसलाधार बारिश ने एक ओर जहां किसानों के चेहरे पर खुशियां लौटाई तो वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर कहर भी बरपाया. 

बिहार : बाढ़ के बाद आकाशीय बिजली का कहर, अब तक 39 लोगों की मौत
वज्रपात से बिहार में अब तक 39 लोगों की मौत. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना : बिहार में एक तरफ लोग बाढ़ के कहर से अभी उबरे भी नहीं कि लोगों के लिए मंगलवार की रात आफत की बनकर आई. मंगलवार देर रात कई इलाकों में आकाशीय बिजली गिरने से 39 लोगों की मौत हो गई. मंगलवार की शाम हुई जबरदस्त मूसलाधार बारिश ने एक ओर जहां किसानों के चेहरे पर खुशियां लौटाई वहीं, दूसरी तरफ कई जगहों पर कहर भी बरपाया.

जबरदस्त मूसलाधार बारिश ने एक ओर जहां किसानों के चेहरे पर खुशियां लौटाई तो वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर कहर भी बरपाया. खेती के लिए वरदान लेकिन कई लोगों के लिए मौत का कहर बनकर आई इस बारिश ने मुंगेर में लोगों की जान ले ली. अलग-अलग जगहों पर हुई वज्रपात में सभी की जान गई है. वज्रपात की चपेट में आने से 5 लोग जख्मी हो गए.

जमुई के बाद वज्रपात का सबसे अधिक कहर औरंगाबाद में टूटा. औरंगाबाद में आसमानी बिजली के कहर से मंगलवार को सात लोगों की मौत हो गई है. पहली घटना गोह प्रखंड की है जहां तीन अलग अलग घटनाओं में एक महिला समेत कुल चार लोगों की मौत हुई है वहीं, दूसरी घटना रफीगंज प्रखंड की है जहां तीन अलग-अलग घटनाओं में कुल तीन लोग आसमानी कहर का शिकार हुए हैं.

मंगलवार को बांका जिले के अलग अलग थाना क्षेत्र के शंभूगंज ,फूल्लीडूमर एव कटोरिया क्षेत्र में अचानक आई बारिश के साथ साथ वज्रपात होने से अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 9 लोग घायल हो गए. भागलपुर, नालंदा व सासाराम में दो-दो और कटिहार मुंगेर में एक एक की मौत हो गई. इसके साथ ही नालंदा में 02, सासाराम में 02, कटिहार में एक की मौत तीन लोग झुलसे इसके अलावा मुंगेर में भी एक बच्चे की मौत हो गई.