close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार में पानी का कहर, तीन दिनों में हुई 400 मिमी बारिश, अब तक 40 लोगों की मौत

मौसम विभाग का अनुमान है कि पूर्णिया, अररिया, किशनगंज, भागलपुर और बांका में बारिश होगी. आज से दो हेलीकॉप्टर राहत सामग्री का वितरण करेंगे. सीएम ने सभी मंत्री, सचिव को अपने प्रभार के जिलों में तीन दिनों तक कैंप का निर्देश दिया है. 

बिहार में पानी का कहर, तीन दिनों में हुई 400 मिमी बारिश, अब तक 40 लोगों की मौत
पिछले तीन दिनों में बिहार में 400 मिमी बारिश हुई है.

पटना: बिहार के लगभग 15 जिलों में पिछले चार दिनों से मुसलाधार बारिश हो रही है. हर जगह बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. पिछले तीन दिनों में बिहार में 400 मिमी बारिश हुई है. अगले 24 घंटों में 6 जिलों में बारिश की संभावना है.

मौसम विभाग का अनुमान है कि पूर्णिया, अररिया, किशनगंज, भागलपुर और बांका में बारिश होगी. आज से दो हेलीकॉप्टर राहत सामग्री का वितरण करेंगे. सीएम ने सभी मंत्री, सचिव को अपने प्रभार के जिलों में तीन दिनों तक कैंप का निर्देश दिया है. 

 

वहीं, पटना में राजेंद्र नगर, कंकड़बाग, भूतनाथ रोड, कांटी फैक्ट्री रोड, मलाही पकड़ी, एसके पुरी में अधिक जलजमाव की स्थिति बनी हुई है. वहीं, कटिहार में महेशपुर कोशी तटबंध टूट गया है. कोसी नदी के जलस्तर हुई वृद्धि पर बांध टूट गया है. लगभग 7 हजार आबादी प्रभावित है. मौके पर कुर्सेला प्रशासन पहुंचा. लोगों में अफरातफरी मच गई है. 

बारिश के कारण लगभग दो दर्जन जिले प्रभावित हैं. शिवहर, सितामढ़ी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण,पश्चिमी चंपारण, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया, मुंगेर, भागलपुर, कटिहार, पूर्णिया, अररिया, किशनगंज, सुपौल, मधेपुरा, वैशाली, सारण, सीवान और गोपालगंज में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. 

वहीं, बिहार में अब तक 40 लोगों की मृत्यु और नौ लोगों को घायल होने की सूचना है. बिहार में 95 प्रखंड 464 पंचायत 758 गांव 16,56607 जनसंख्या प्रभावित हुई है. प्रभावित लोगों के लिए 17 राहत शिविर 226 सामुदायिक रसोई बनाई गई है.1 35 नाव 18 एनडीआरएफ-एसडीआरएफ की टीम राहत के लिए लगाया गया है.