close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: जलजमाव बनी समस्या, सिर्फ राजेंद्र नगर से पानी निकासी के लिए लगाए गए 5 मशीन

पीएचइडी विभाग के यांत्रिक सहायक अभियंता मुरलीधर प्रसाद ने बताया संप की 5 मशीन को चालू किया गया है इसके वजह से पानी की निकासी तेजी से हो रही है.

पटना: जलजमाव बनी समस्या, सिर्फ राजेंद्र नगर से पानी निकासी के लिए लगाए गए 5 मशीन
कल की अपेक्षा जलजमाव की स्थिति से काफी कम हो गई है.

पटना: बिहार में बारिश जरूर रूक गई है लेकिन जलजमाव अभी भी इलाकों से कम नहीं हुआ है. सिर्फ पटना के राजेंद्र नगर से पानी निकासी के लिए पांच मशीनों को चालू किया गया है. 

पीएचइडी विभाग के यांत्रिक सहायक अभियंता मुरलीधर प्रसाद ने बताया संप की 5 मशीन को चालू किया गया है इसके वजह से पानी की निकासी तेजी से हो रही है और कल की अपेक्षा जलजमाव की स्थिति से काफी कम हो गई है.

उन्होंने कहा कि 2 से 3 दिनों के अंदर में लोगों को जलजमाव से निजात मिल जाएगा. आपको बता दें कि पटना के कई इलाकों से पानी निकाला गया है लेकिन अब पानी निकालने के बाद हर तरफ कू़ड़ा ही कूड़ा फैला नजर आ रहा है. इसे साफ करना पटना नगर निगम और प्रशासन के लिए बड़ी समस्या है.

 

नगर निगमकर्मी अब पानी के बाद कुड़ा साफ करने में लगे हुए हैं. जेसीबी मशीन से सफाई कर ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है. सिर्फ एसके पुरी नहीं बल्कि पटना के वीआईपी इलाकों से पानी निकलना शुरू हो गया है.

हालांकि, पटना में राजेंद्र नगर, कंकड़बाग, भूतनाथ रोड, कांटी फैक्ट्री रोड, मलाही पकड़ी, एसके पुरी में अधिक जलजमाव की स्थिति बनी हुई है. दानापुर और गोला रोड में लोग पानी की वजह से घरों में कैद हो गए हैं. यहां से पानी निकलने के बाद और भी अधिक गंदगी फैली होने की संभावना जताई जा रही है. 

पटना नगर निगम इससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार होने का दावा जरूर कर रहा है लेकिन आगे आने वाले दिनों में स्थिति क्या होगी ये समय आने पर ही पता चलेगा.