close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: डेंगू से मौत का सिलसिला जारी, अब तक 5 लोगों ने गंवाई जान

राज्य सरकार भी डेंगू से हो रही मौतों को लेकर अनजान बनी बैठी है. साथ ही आंकड़े भी सामने नहीं रख रही है

पटना: डेंगू से मौत का सिलसिला जारी, अब तक 5 लोगों ने गंवाई जान
बिहार में डेंगू से लगातार लोगों की मौत हो रही है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना: राजधानी में ड़ेंगू (Dengue)  से लगातार मौतों का सिलसिला जारी है. बिहार में इस बीमारी के कारण अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है. 

वहीं पीएमसीएच (PMCH) में दस साल के एक बच्चे की मौत हुई है. जिसके बाद सूबे के सबसे बड़े अस्पताल की तरफ से ये दावा किया गया है की मौत डेंगू से नहीं हुई है. 

राज्य सरकार भी डेंगू से हो रही मौतों को लेकर अनजान बनी बैठी है. दरअसल 10 साल के अंश का इलाज पीएमसीएच के डेंगू वार्ड में चल रहा था.

उसका प्लेटलेट्स काउंट 76 पर पहुंचा गया था, लेकिन इलाज के दौरान ही अंश ने दम तोड़ दिया.

मौत के बाद से अस्पताल प्रबंधन दावा कर रहा है कि मौत डेंगू की वजह से नहीं हुई है. वहीं, लगातार हो रही मौतों को लेकर सरकार भी आंकड़े सामने नहीं रख रही है. 

कंकड़बाग की अर्चना की मौत 16 अक्टूबर को निजी अस्पताल में हो गई. उससे पहले उन्हें भी 10 अक्टूबर को पीएमसीएच लाया गया था और तब भी अस्पताल ने कहा था कि अर्चना को डेंगू नहीं है. लेकिन निजी अस्पताल में डेंगू की पुष्टि हुई और फिर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

इन दो घटनाओं को देखकर तो यही लगता है कि दोनों डेंगू के ही मरीज थे. लेकिन सरकार इसे सिरे से खारिज कर रही है. 

पूरे प्रदेश में अब तक 2 हजार 538 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है. इस बीमारी से सबसे ज्यादा प्रभावित राजधानी पटना हुई है. जहां एक हजार 910 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है. 

वहीं, पीएमसीएच में 1247 मरीज भर्ती हैं, जबकि एनएमसीएच में 270 मरीजों का इलाज चल रहा है. साथ ही आरएमआरआई में 399 मरीज डेंगू का इलाज करा रहे हैं.

सरकार इससे पहले हर साल बिहार को बेहाल करने वाली बाढ़ में लोगों तक मदद पहुंचाने में बहुत सफल नहीं रही. ऐसे में अब इस महामारी को लेकर की सरकार की तरफ से कोई खास इंतजाम नहीं किए गए हैं.

Saloni Mohan, News Desk