पटना मेट्रो के लिए जापान से मिलेगा 5400 करोड़ रुपये का ऋण, सुशील मोदी ने की घोषणा

सुशील मोदी ने कहा कि सोमवार को पुरी के दिल्ली स्थित कार्यालय में मिल कर आग्रह किया कि जापान सरकार के साथ इस माह होने वाली बैठक में प्राथमिकता के आधार पर परियोजनाओं का चयन कर पटना मेट्रो के लिए जाइका ऋण दिलाने की पहल की जाए.   

पटना मेट्रो के लिए जापान से मिलेगा 5400 करोड़ रुपये का ऋण, सुशील मोदी ने की घोषणा
प्रधानमंत्री ने कुछ समय पहले पटना मेट्रो परियोजना का शिलान्यास किया था. (फाइल फोटो)

पटना: जापान इंटरनेशनल कॉरपोरेशन (जाइका) ने पटना मेट्रो रेल परियोजना के लिए 5400 करोड़ रुपये का ऋण उपलब्ध कराएगा. यह जानकारी बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने दी है. मोदी ने कहा कि केन्द्रीय शहरी और आवास मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पटना मेट्रो परियोजना के लिए जापान की जाइका से सस्ती दर पर 5,400 करोड़ रुपये का ऋण शीघ्र उपलब्ध कराने का उन्हें आश्वासन दिया है. 

सुशील मोदी ने कहा कि सोमवार को पुरी के दिल्ली स्थित कार्यालय में मिल कर आग्रह किया कि जापान सरकार के साथ इस माह होने वाली बैठक में प्राथमिकता के आधार पर परियोजनाओं का चयन कर पटना मेट्रो के लिए जाइका ऋण दिलाने की पहल की जाए. 

मोदी के अनुसार, पुरी ने कहा, "पटना मेट्रो से उनका भावनात्मक लगाव है. भारत सरकार इस परियोजना के लिए हर तरह से मदद करेगी."

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ने पिछले दिनों 13,365 करोड़ रुपये लागत से बनने वाली पटना मेट्रो परियोजना का शिलान्यास किया था. इसके लिए जापान की जाइका से 5,400 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज लिया जाना है. इस योजना में भारत सरकार दो हजार करोड़ रुपये और बिहार सरकार अपनी हिस्सेदारी का 5,390 करोड़ रुपये खर्च करेगी. दो चरणों में पूर्वी-पश्चिमी और उत्तरी-दक्षिणी कॉरिडोर का निर्माण होना है. 

मोदी ने बताया कि भारत सरकार ने अबतक 50 करोड़ रुपये तथा बिहार सरकार ने 100 करोड़ रुपये उपलब्ध करा दिए हैं. पटना मेट्रो परियोजना के लिए मिट्टी की जांच का कार्य प्रारंभ हो गया है.