Breaking News
  • बिहार के लोग इतनी बड़ी आपदा का डटकर मुकाबला कर रहे हैं, इसके लिए बधाई: पीएम मोदी
  • बिहार विधान सभा चुनावी रैली में पीएम मोदी ने भोजपुरी में लोगों को किया प्रणाम
  • कोरोना के इस समय में भी गरीबों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए एनडीए सरकार ने काम किया: पीएम मोदी

लोहरदगा पुलिस ने कायम की मिसाल, कुछ इस तरह 24 घंटे रख रही शहर पर नजर

लोहरदगा में  मुख्य जगहों पर 72 सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं जिसके माध्यम से लोहरदगा में हो रही गतिविधी पर नजर रखी जा सकेगी. पुलिस इससे आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगाएगी. 

लोहरदगा पुलिस ने कायम की मिसाल, कुछ इस तरह 24 घंटे रख रही शहर पर नजर
लोहरदगा हाइटेक तरीके से शहर पर कड़ी निगरानी रख रही है. (फाइल फोटो)

लोहरदगा: झारखंड के लोहरदगा में पुलिस प्रशासन हाईटेक सुविधाओं से लैस है. जी हां कम्पोजिट कंट्रोल रूम से शहर की निगरानी की जा रही है. शहर के मुख्य चौक-चौराहे, शहीद पार्क, कोर्ट-कचहरी, जिला समहरणालय और रेलवे स्टेशन सहित जिले में अलग-अलग जगहों पर 72 सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं जिसके माध्यम से लोहरदगा में हो रही गतिविधी पर नजर रखी जा रही है.

इतना ही नहीं  मोबाइल फोन के एक क्लिक पर पांच से बीस मिनट के अंदर पुलिस सुरक्षा के लिए पहुंच जाती है और खास बात यह है कि यह सुविधा चौबीस घंटे उपलब्ध है. 100 डायल कर या शक्ति एप के एक क्लिक पर शहर में 24 घंटे पुलिस मदद के लिए उपलब्ध है. शहर के कोने-कोने पर चौबिस घंटे पुलिस की नजर रहती है. यहां तक कि सोशल मीडिया के पोस्ट और कॉल पर भी पुलिस की कड़ी नजर है और एक गलत काम शख्स को हवालात में पहुंचा सकती है.  

लोहरदगा में 100 पर मदद के लिए कॉल कंट्रोल रूम, जिला मुख्यालय, संबंधित थाना और हाइवे पेट्रोलिंग की पीसीआर वैन को सूचना देती है और इसकी रिपोर्टिंग भी ऑनलाइन की जाती है. यहां तक कि सड़क दुर्घटना में भी पुलिस की हाइवे पेट्रोलिंग से बीस मिनट के अंदर लोगों को सहायता मिल जाती है.

वहीं एक और खास बात यह है कि पुलिस की पीआईयू सड़क दुर्घटना की पूरी जाँच रिपोर्टिंग और एनालसिस भी कर रही ताकि सड़क दुर्घटना की सही वजह और आकलन हो सके. इसके लिए सभी थाना को टैब देने के साथ ट्रेनिंग भी दी गई है.  एएसआई और पुलिस इंचार्ज जगदीश भारती ने कहा कि हमारा सीधे कंट्रोल रुम से जुड़ाव है और 24 घंटे हाइवे पेट्रोलिंग सेवा जारी रहती है जिससे अपराध और सड़क दुर्घटना के एक सूचना पर पीसीआर उपलब्ध होती है.

लोहरदगा में पुलिस के इस कदम के बाद शहर में क्राइम की घटनाएं कम हुई हैं. पुलिस के जागरूकता अभियान से आम लोगों को भी फायदा मिल रहा है. सड़क सुरक्षा के लिए पुलिस ब्रेथ एनालाइजर से चेकिंग कर रही है ताकि इससे शराब के नशे में गाड़ी चलाने पर रोक लग सके.