बिहार: सहरसा में पैसों के लिए दोस्त ने की दोस्त की हत्या, पुलिस ने शव को किया बरामद

सहरसा में पैसों के लिए एक दोस्त ने पहले अपने दोस्त को बहला कर ले गया और फिर अपने दोस्तों के साथ मिलकर अपने ही दोस्त की गला दबाकर हत्या कर दी. 

बिहार: सहरसा में पैसों के लिए दोस्त ने की दोस्त की हत्या, पुलिस ने शव को किया बरामद
बीस दिन बाद अपहृत युवक का शव पुलिस है ने बरामद कर लिया है.

सहरसा: बिहार के सहरसा में पैसों के लिए एक दोस्त ने पहले अपने दोस्त को बहला कर ले गया और फिर अपने दोस्तों के साथ मिलकर अपने ही दोस्त की गला दबाकर हत्या कर दी. बीस दिन बाद अपहृत युवक का शव पुलिस ने बरामद कर लिया

पूरा मामला सहरसा सदर थाना क्षेत्र का है जहां बीते नौ नवंबर को सदर थाना क्षेत्र के पंचवटी चौक निवासी अधिवक्ता सुभाष चंद्र सिंह के पुत्र अभिषेक वत्स का अपहरण कर लिया गया था. जिसके बाद परिजनों ने 14 नवंबर को सदर थाना में अपहरण का मामला दर्ज कराया था.

 
मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने अपहृत युवक की तलाश में जुट गई और छानबीन करते हुए मृतक के दोस्त अभिषेक सिंह को गिरफ्त में लेकर पूछताछ किया जिसके बाद अभिषेक के निशनदेही पर अपहृत युवक का शव मधेपुरा जिले के ग्वालपाड़ा थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव से बरामद कर लिया.

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेज दिया है. हत्या का खुलासा करते हुए सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने बताया की मृतक युवक अभिषेक वत्स के अपहरण का मामला बीते चौदह नवंबर को सदर थाना में मामला दर्ज किया गया था. 

प्राथमिकी अभियुक्त अभिषेक सिंह जो मधेपुरा जिला के ग्वालपाड़ा थाना अंतर्गत शाहपुर गांव निवासी हैं उनको गिरफ्तार किया गया है और उनके निशान देही पर शव को शाहपुर गांव से बरामद कर अंत्यपरीक्षण के लिए भागलपुर भेज दिया गया है. 

हत्या की वजह मृतक और उसके चार दोस्तों में रूपये के लेन देन में हुई है. गिरफ्तार अभियुक्त मृतक के दोस्त अभिषेक सिंह ने सात हजार रूपये के लिए गला दबाकर हत्या करने की बात स्वीकार की है. फ़िलहाल पुलिस अन्य दो आरोपी दोस्त के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.