close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राष्ट्रीय खेल घाटाला: बंधु तिर्की गिरफ्तार, सरकार ने ACB को दी थी केस चलाने की अनुमति

हाल ही में 34वें राष्ट्रीय खेल घोटाले को लेकर झारखंड के पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की, आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष रहे आरके आनंद सहित पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाने की सरकार ने एसीबी को अनुमति दी थी.

राष्ट्रीय खेल घाटाला: बंधु तिर्की गिरफ्तार, सरकार ने ACB को दी थी केस चलाने की अनुमति
ACB ने बंधु तिर्की को किया गिरफ्तार. (फाइल फोटो)

रांची : झारखंड के पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की (Bandhu Tirkey) को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) गिरफ्तार कर लिया है. राष्ट्रीय खेल घोटाले में उनकी गिरफ्तारी हुई है. ज्ञात हो कि इस मामले में अप्रथमिकी अभियुक्त हैं तिर्की. राष्ट्रीय खेल घोटाले में एसएम हासमी और पीसी मिश्रा के बाद यह तीसरी गिरफ्तारी है. एक अन्य आरोपी मधुकांत पाठक ने सरेंडर किया था.

2007 के राष्ट्रीय खेलों के आयोजन की जिम्मेदारी रांची को मिली थी. आठ-नौ बार तारीखों में बदलाव के बाद अंततः 12 से 26 फरवरी 2011 तक भव्य आयोजन हुआ. 2008 से 2013-14 तक विभिन्न टेंडरों में हेराफेरी, जरूरत से ज्यादा सामान की खरीद, एल-1 की बजाय दूसरों को ठेका देना, मनमर्जी नामांकन के आधार पर ठेका देना जैसी प्रशासनिक और वित्तीय अनियमितता के कारण राज्य सरकार को लगभग 28 करोड़ रुपये की क्षति (PAG की रिपोर्ट व अन्य रिपोर्टों के अनुसार) हुई थी. इसी-घपले घोटाले की जांच एसीबी बीते नौ वर्षों से कर रही है.

ज्ञात हो कि हाल ही में 34वें राष्ट्रीय खेल घोटाले को लेकर झारखंड के पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की, आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष रहे आरके आनंद सहित पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाने की सरकार ने एसीबी को अनुमति दी थी. इस मामले पर अब एकबार फिर झीरखंड की राजनीति तेज होने की प्रबल संभावना बन गई है.

34वें राष्ट्रीय खेल का जिन्न एक बार फिर झारखंड में सियासत गरमा रहा है. सरकार द्वारा एसीबी को जांच की हरी झंडी मिलने के बाद एसीबी ने आज उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया है. मुकदमा चलाने की अनुमति को बंधू तिर्की ने राजनीति से प्रेरित बताया था.

पूर्व खेल मंत्री ने साफ तौर पर सरकार पर यह आरोप लगाया था कि उनके खिलाफ आवाज उठाने वालों को निशाना बनाया जा रहा है. लेकिन बंधु तिर्की किसी से नहीं डरता. उन्होंने कहा था कि लड़ेंगे और जीतेंगे भी. क्योंकि न्यायालय पर उन्हें पूरा भरोसा है.

मधु कोड़ा सरकार में शिक्षा मंत्री रही बंधु तिर्की को बीते वर्ष दिसंबर महीने में सीबीआई ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति के मामले में गिरफ्तार किया था.