बिहार में रक्षाबंधन के अवसर पर प्रशासन महिलाओं को देगा अनोखा उपहार

प्रशासन के द्वारा रक्षा बंधन तक जिले के सभी 246 पंचायतों में 2,500 व्यक्तिगत शौचालय का निर्माण करवाकर, उसे महिला लाभुकों को सौंपने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

बिहार में रक्षाबंधन के अवसर पर प्रशासन महिलाओं को देगा अनोखा उपहार
महिलाओं को रक्षाबंधन के मौके पर अनोखा उपहार दिया जाएगा.

पूर्णिया: बिहार के पूर्णिया में जिला प्रशासन ने रक्षाबंधन के मौके पर, यहां के कई महिलाओं को अनोखा उपहार देगा. यह उपहार ना केवल स्वच्छता का संदेश देगा, बल्कि इससे गांवों को भी स्वच्छ रखने में मदद मिलेगी. यहां 2,500 से अधिक महिलाओं को रक्षाबंधन के मौके पर शौचालय उपहार दिया जाएगा.

जिले में मिशन मोड में अगले चार से पांच दिनों में शौचालय निर्माण कार्य किया जाएगा. जिला प्रशासन के द्वारा रक्षा बंधन तक जिले के सभी 246 पंचायतों में 2,500 व्यक्तिगत शौचालय का निर्माण करवाकर, उसे महिला लाभुकों को सौंपने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

अभियान के तहत जिले के सभी पंचायतों में 10-10 शौचालय निर्माण करवाया जा रहा है. मिशन मोड में शुरू हुए शौचालय निर्माण कार्य का प्रारंभ बुधवार को जिलाधिकारी राहुल कुमार ने, श्रीनगर प्रखंड के झुन्नीकाला पंचायत के डंगराहा गांव से किया, जहां उन्होंने खुद मौजूद रहकर महिला लाभुक के हाथों सामुदायिक शौचालय निर्माण कार्य शुरू करवाया.

शौचालय निर्माण कार्य को लेकर चलाए गए अभियान के विषय में जिलाधिकारी राहुल कुमार ने बताया, '3 अगस्त को राखी से पहले जिला प्रशासन के द्वारा 2500 महिला लाभुकों के लिए, शौचालय बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया है. निर्माण के बाद रक्षाबंधन के मौके पर इन महिलाओं को उपहार दिया जाएगा.'

उन्होंने बताया कि, जिले में अभी भी बहुत से ऐसे लाभुक हैं, जिनके पास संसाधन और जमीन उपलब्ध होने के बाद भी उनके घर शौचालय का निर्माण नहीं हो पाया है. उन्होंने कहा कि, लोगों को प्रेरित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा अभियान चलाकर शौचालय निर्माण के लिए प्रेरित करने की कोशिश की जा रही है.

उन्होंने कहा, 'बहनों के लिए यह राखी का उपहार है. तीन अगस्त को जिला में ढाई हजार महिलाओं को एक साथ शौचालय का गिट दिया जाएगा. स्वच्छता को लेकर यह एक प्रयास है.' जिला से लेकर पंचायत स्तर के कर्मी और मोटिवेटर के माध्यम से वैसे परिवार को चिह्न्ति किया गया है, जिनके घर शौचालय की सुविधा नहीं है.

उन्होंने बताया कि जिस महादलित बस्ती में जगह की समस्या है, वहां सामुदायिक शौचालय का निर्माण करवाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इससे ना केवल स्थानीय लोगों को रोजगार मिल रहा है, बल्कि स्वच्छता का संदेश भी दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पंचायतों में पौधारोपण का कार्य भी प्रारंभ किया गया है.

अभियान की निगरानी को लेकर जिला स्तर पर वार रूम का निर्माण करवाया गया है. सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को इसके लिए स्पष्ट दिशानिर्देश जारी किया गया है. शौचालय निर्माण कार्य पूरा होने तक प्रतिदिन निर्माण कार्य की समीक्षा की जाएगी.

(इनपुट-आईएएनएस)