दरभंगा: डॉग स्कॉयड की मदद से शराब तस्कर का भंडाफोड़, भारी मात्रा में शराब बरामद

डीजे वाहन के हारमोनियम और अन्य वाद्य यंत्रों में छुपाकर ये शराब रखी गई थी. जिसे जब्त कर लिया गया है. पुलिस जब शराब की सूचना पर तस्कर के घर पहुंची तो पुलिस को समझ नहीं आया कि आखिर शराब कहां हो सकती है. 

दरभंगा: डॉग स्कॉयड की मदद से शराब तस्कर का भंडाफोड़, भारी मात्रा में शराब बरामद
डीजे वाहन के हारमोनियम और अन्य वाद्य यंत्रों में छुपाकर ये शराब रखी गई थी.

दरभंगा: बिहार में शराब पर पूरी तरह से पाबंदी है. लेकिन इसके बाद भी आए दिन धड़ल्ले से शराब बनाई और बेची जा रही है. ताजा मामला दरभंगा का है जहां दरभंगा शहर के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के लक्ष्मीसागर में डॉग स्कॉयड की मदद से भारी मात्रा में शराब बरामद की है.

डीजे वाहन के हारमोनियम और अन्य वाद्य यंत्रों में छुपाकर ये शराब रखी गई थी. जिसे जब्त कर लिया गया है. पुलिस जब शराब की सूचना पर तस्कर के घर पहुंची तो पुलिस को समझ नहीं आया कि आखिर शराब कहां हो सकती है. जिसके बाद खोजी कुत्ते को लाया गया और उसने सूंघ कर शराब की पहचान की. पुलिस ने इस मामले में एक धंधेबाज कृष्णा पासवान को गिरफ्तार भी किया है. 

अभियान का नेतृत्व कर रहे पुलिस इंस्पेक्टर शिवमुनि प्रसाद ने बताया कि ये छापेमारी पूरी फिल्मी स्टाइल में की गई. गिरफ्तार कृष्णा शराब माफिया ललित पासवान का साला है. ये शराब की खेप एक दिन पहले ही लाई गई थी. 

धंधेबाज ने इसे डीजे बजाने वाले वाहन में हारमोनियम में बड़ी चालाकी से छुपाकर रखा था लेकिन पुलिस के खोजी कुत्ते के आगे उसकी सारी चालाकी धरी रह गई. उन्होंने बताया कि ये जिले का सबसे बड़ा अभियान है जो आगे भी जारी रहेगा.

बता दें कि बिहार में सालों से लागू शराबबंदी कानून के बावजूद अवैध ढंग से यहां शराब का कारोबार जारी है. लगातार शराब जब्त हो रही है और धंधेबाज पकड़े जा रहे हैं. इसके बावजूद ये सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. 
Anupama Kumari, News Desk