close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आजम खान का समर्थन करने के बाद फंसे जीतनराम मांझी, बिहार के सभी दलों ने की निंदा

सपा सांसद आजम खान के विवादित बयान पर सफाई देने के क्रम में मांझी ने खुद भी विवादित बयान दे दिया.

आजम खान का समर्थन करने के बाद फंसे जीतनराम मांझी, बिहार के सभी दलों ने की निंदा
जीतनराम मांझी अपने बयानों के बाद फंस गए हैं.

पटनाः बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने आजम खान के बचाव में खड़े हो गए हैं. लेकिन मांझी अब अपने बयान से अपने ही सहयोगी दलों के बीच फंस गए हैं. उनके बयान पर बिहार में सियासी बवाल मचा हुआ है. आलम यह है कि मांझी को अपने बयान पर सहयोगी दल आरजेडी का भी समर्थन नहीं मिला. वहीं, बीजेपी ने मांझी पर छुद्र राजनीति करने का आरोप लगा दिया है.

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं. सपा सांसद आजम खान के विवादित बयान पर सफाई देने के क्रम में मांझी ने खुद भी विवादित बयान दे दिया. मांझी ने तो यहां तक कह दिया कि जवान भाई बहन भी एक दूसरे को चुम कर आलिंगन करते हैं. सपा सांसद ने रमा देवी पर टिप्पणी भाई बहन के ही संदर्भ में की थी. मांझी के बयान पर बडा सियासी बवाल खड़ा हो गया है. यहां तक की मांझी की सहयोगी पार्टी आरजेडी खुद इस मुद्दे पर मांझी के साथ नहीं खड़ी है.

आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने मांझी के बयान पर कुछ भी कहने से साफ इन्कार कर दिया है. शिवानंद तिवारी ने कहा है कि हो सकता है आजम खान की भावना बिलकुल साफ हो. लेकिन उनकी टिप्पणी से अगर किसी महिला को ठेस पहुंची तो माफी मांग लेनी चाहिए. माफी मांग लेने में कोई बुराई नहीं हैं.

यह भी पढ़ें: आजम खान की विवादित टिप्पणी के समर्थन में आए मांझी, कहा- 'मां बेटा को Kiss करे तो सेक्स है क्या?'

वहीं, मंत्री अशोक चौधरी ने भी मांझी के बयान की निंदा की है. अशोक चौधरी ने कहा है कि मांझी का बयान राजनीति से प्रेरित है. अगर नेता इसी तरह के बयान देते रहेंगे तो सियासत में नैतिक मूल्यों का ह्रास हो जाएगा. आजम खान की टिप्पणी बिलकुल गलत थी. उसे किसी भी लहजे से सही नहीं ठहराया जा सकता. क्योंकि जिस महिला पर आजम खान ने टिप्पणी की है खुद उस महिला को बुरा लगा है.

जबकि मंत्री नंद किशोर यादव ने मांझी पर छुद्र राजनीति का आरोप लगाया है. नंदकिशोर यादव ने कहा है कि आजम खान के टिप्पणी का विरोध सभी राजनीतिक दलों ने किया है. ऐसे में बिहार का कोई नेता आजम खान के बयान का समर्थन करता है तो उसे छोटी राजनीति ही कहेंगे.

जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी ने कहा है कि मांझी यह भूल गए हैं कि जिस व्यक्ति ने बयान दिया है उसने बिहार की बेटी का अपमान किया है.