अमित शाह का बड़ा ऐलान- नीतीश के नेतृत्व में ही NDA लड़ेगी बिहार विधानसभा चुनाव

सीएए और एनआरसी को लेकर बीजेपी द्वारा चलाए जा रहे जनजागरण अभियान को लेकर अमित शाह वैशाली आए हैं. 

अमित शाह का बड़ा ऐलान- नीतीश के नेतृत्व में ही NDA लड़ेगी बिहार विधानसभा चुनाव
अमित शाह ने आज साफ कर दिया है कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ा जाएगा.

वैशाली: सीएए और एनआरसी को लेकर लोगों का भ्रम दूर करने और जागरुक करने के लिए बीजेपी अध्यक्ष और देश के गृह मंत्री अमित शाह ने वैशाली में जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने ना सिर्फ सीएए और एनआरसी पर बात की बल्कि बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर भी बड़ा ऐलान किया. 

जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा, 'मैं सारी अफवाहों पर विराम लगाते हुए कहता हूं कि बिहार के में विधानसभा चुनाव नीतिश कुमार के नेतृत्व में एनडीए लड़ेगा. बीजेपी और जेडीयू एक साथ चुनाव लड़ेगा.' साथ ही उन्होंने कहा कि लालू यादव को जेल में फिर से सीएम बनने का सपना आता है लेकिन मैं उनको बताना चाहता हूं कि बीजेपी-जेडीयू का गठबंधन अटूट है और आप इसमें कोई सेंधमारी नहीं कर पाएंगे.

अमित शाह के सभा स्थल पर पहुंचते ही समर्थकों ने भारत माता और जय जय श्री राम के नारे लगाए. अपने संबोधन में अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन किया है. साथ ही उन्होंने कहा कि हम सीएए को लेकर सारी गलतफहमी दूर करेंगे और जनता का भ्रम दूर करेंगे. उन्होंने साथ ही कहा कि जन जागरण अभियान बीजेपी द्वारा चलाया जा रहा है. आज यह बिहार में है और सबसे अच्छा रिस्पांस बिहार में मिला है. 

उन्होंने कहा कि मोदी जी के नेतृत्व में सीएए आया और इसके माध्यम से हमने पीड़ित लोगों को नागरिकता देने का कार्यक्रम चलाया. आज ह्यूमन राइट के चैंपियन से पूछना चाहता हूं कि हजारों लोगों के साथ बलात्कार हुआ, सैकड़ों घर छीने गए, उनके ह्यूमन राइट की चिंता आप नहीं करते हो. सीएए उनका ह्यूमन राइट दिलाएगा.

साथ ही उन्होंने कहा कि मैं ममता बनर्जी और लालू यादव से पूछना चाहता हूं कि पिछड़े समाज और गरीबों ने आपका क्या बिगाड़ा है. कांग्रेस राजस्थान में पाकिस्तान के हिंदुओ और सिक्ख को नागरिकता देने की बात करती है और योगी जी को सांप्रदायिक कहते हैं. साथ ही उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जब से ये कानून लेकर आए हैं तब से ये लोग अल्पसंख्यकों को गुमराह किया और दंगे कराने का काम किया. पहले तीन-चार दिन जो दंगे हुए उसका श्रेय कांग्रेस एंड ममता बनर्जी को जाता है.

साथ ही उन्होंने कहा कि अब सिर्फ पाकिस्तान में तीन फीसदी हिंदू बचे हैं. अयोध्या में राम मंदिर पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि चार महीने के अंदर आसमान को छूने वाला रामलला का मंदिर बनाने की शुरुआत करने हम जा रहे हैं.