बिहारः 2019 चुनाव को लेकर डिनर पर मिले नीतीश-शाह, मुलाकात हुई...क्या बात हुई?

नीतीश कुमार और अमित शाह के बीच लगभग दो घंटे 10 मिनट मुलाकात चली.  

बिहारः 2019 चुनाव को लेकर डिनर पर मिले नीतीश-शाह, मुलाकात हुई...क्या बात हुई?

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर डिनर के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार रात तकरीबन 8:20 पर पहुंचे. डिनर के बाद अमित शाह करीब रात 10:30 पर नीतीश कुमार के आवास से बाहर निकले जिसके बाद अमित शाह राज्यपाल से भी मुलाकात करने गए. नीतीश कुमार और अमित शाह के बीच लगभग दो घंटे 10 मिनट मुलाकात चली. इस मुलाकात के दौरान क्या बात हुई? इसको लेकर अब तक कोई औपचारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं मिल पाई है. 

हालांकि बिहार सरकार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने बातचीत में ज़ी मीडिया को बताया कि दोनों नेताओं ने अकेले में भी बातचित की. वहीं इन दोनों प्रमुख नेताओं के बीच आज संपन्न हुई मुलाकात को लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अमित शाह का बुके देकर अपने आवास पर स्वागत किया. इस डिनर पार्टी में अमित शाह के साथ बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष नित्यानंद राय, मंत्री मंगल पांडेय, भूपेंद्र यादव, अश्विनी चौबे, नंदकिशोर यादव समेत बीजेपी के कई नेताओं ने शिरकत की. वहीं, जेडीयू नेताओं में मुख्यमंत्री के अलावा उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों में ललन सिंह, बिजेंद्र यादव, जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह शामिल हुए. कयास लगाए जा रहे हैं कि नीतीश कुमार और अमित शाह में  डिनर डिप्लोमेसी के जरिये बिहार में सीटों के बंटवारे को सुलझाने का प्रयास किया गया. 

वहीं इस बात को जब हमने डिनर में शामिल हुए बिहार के कृषी मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता से जानने की कोशिश की तो उन्होंने कहा कि सीट शेयरिंग का कोई विवाद नहीं है समय आने पर हमारे पार्टी के अध्यक्ष और जेडीयू के नेता नीतीश कुमार इस पर मिलजुल कर राय बना लेंगे. इन सबके बीच दोनों प्रमुख नेताओं की इस डिनर डिप्लोमेसी पर सबकी निगाह लगी रहीं. 

इससे पहले बिहार में सीटों के बंटवारे को लेकर बयानबाजी के बीच सीएम नीतीश कुमार और अमित शाह ने गुरुवार सुबह के नाश्ते पर गर्मजोशी के साथ मुलाकात करके संदेश दिया था कि एनडीए में सब कुछ ठीक चल रहा है. नीतीश कुमार के  एनडीए में वापस आने के बाद अमित शाह का यह पहला बिहार दौरा है. वहीं आज सुबह पटना में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि एनडीए गठबंधन अटूट है और बिहार से ही कांग्रेस मुक्त भारत की शुरुआत होगी.